लुधियाना की मंडियों में धान की खरीद शुरू, खन्ना में आढ़तियों ने दी एक अक्टूबर से खरीद बंद करने की चेतावनी

लुधियाना की की मंडियाें में धान की खरीद रविवार काे शुरू हाे गई। (जेएनएन)
Publish Date:Sun, 27 Sep 2020 01:25 PM (IST) Author: Vipin Kumar

लुधियाना, खन्ना, जेएनएन।

 

इस बार सरकार की ओर से धान खरीद चार दिन पहले ही शुरू करवा दी गई है वैसे हर साल एक अक्टूबर से धान की खरीद शुरू होती थी। वहीं एशिया की सबसे बड़ी अनाज मंडी खन्ना में रविवार को धान की सरकारी ख़रीद शुरू हो गई। इसका उदघाटन मार्केट कमेटी के चेयरमैन गुरदीप सिंह रसूलड़ा और आढ़ती एसोसिएशन खन्ना के प्रधान हरबंस सिंह रोशा की तरफ से किया गया।

भले ही धान की खरीद शुरू हो गई है, लेकिन आढ़तियों का गुस्सा अभी भी बरकरार है। उन्होंने हड़ताल की चेतावनी दी है। खरीद एजेंसी वेयरहाउस की तरफ से आढ़ती कुलवंत सिंह की दुकान से किसान गुरप्रीत सिंह गांव इकोलाही की धान की फ़सल 1888 रुपये प्रति क्विंटल के हिसाब से खरीदी। आढ़ती एसोसिएशन के प्रधान हरबंस सिंह रोशा और महासचिव यादविंदर सिंह लिबड़ा ने बताया कि धान के पिछले सीजन की आढ़त और लोडिंग का 131 करोड़ रुपये और गेहूं की आढ़त, लोडिंग और लेबर का 105 करोड़ रुपये आढ़तियों का सरकार की तरफ बकाया हैं। अगर सरकार ने आढ़तियों को पेमेंट जारी न की तो एक अक्तूबर से पंजाब की सभी मंडियां बंद की जाएंगी। 

आढ़तियों की यह चेतावनी सरकार के लिए परेशानी खड़ी कर सकती है। सरकार ने खेती बिलों के ख़िलाफ़ आंदोलन कर रहे किसानों को खुश करने के लिए एक हफ़्ता पहले सरकारी ख़रीद शुरू करने का फ़ैसला लिया था। इससे किसान तो काफी हद तक शांत हो गए हैं। लेकिन, आढ़तियों ने भी हड़ताल कर दी तो सरकार को मुश्किल का सामना करना पड़ सकता है। खरीद के मौके पर मार्किट कमेटी उप चेयरमैन वरिंदर सिंह गुड्डू, सचिव दलविंदर सिंह, भरपूर चंद बेक्टर, संजय घई, राकेश कुमार बिट्टा भी मौजूद रहे।

लुधियाना जिले में तकरीबन 20 मंडियाें में धान की आमद हो चुकी है। शहरी क्षेत्र मंडियों में जालंधर बाईपास दाना मंडी में करीब दाे मीट्रिक टन धान की आमद हुई है।रविवार दोपहर तक किसान धान सुखाने में जुटे रहे ताकि नमी खत्म हो जाए। इस संबंध में जिला फूड सप्लाई के इंस्पेक्टर एम रॉय ने कहा कि फिलहाल कुछ मंडियों में धान की आवक हुई है और विभाग की ओर से निर्देश जारी हुआ है कि किसान को सभी सुविधा मुहैया कराई जाए।

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.