top menutop menutop menu

बिजली मुलाजिमों ने मंडल ऑफिस के बाहर किया प्रदर्शन

जासं, खन्ना : टेक्निकल सर्विसेज यूनियन ने ज्वाइंट फोरम के आह्वान पर मंडल दफ्तर खन्ना के समक्ष अपनी मांगों को लेकर रोष रैली की। इस दौरान सरकार व पावरकॉम मैनेजमेंट के खिलाफ नारेबाजी की। इसकी अगुवाई मुलाजिम नेता सुखविदर सिंह राजू ने की। वक्ताओं ने मांग की कि ज्वाइंट फोरम पंजाब के साथ हुए समझौतों को लागू किया जाए। इसके साथ ही 22 जुलाई को होने जा रही हड़ताल में शामिल होने का आह्वान किया गया। इस अवसर पर सर्कल प्रधान मक्खन सिंह, खन्ना देहाती प्रधान दलजीत सिंह, ईदू खान, हरजिदर सिंह, मनदीप सिंह, अंगद राम, जतिदर सिंह, धरमिदर कुमार, मलिदर सिंह, भरपूर सिंह, बलजिदर सिंह, परमिदर जीत सिंह मौजूद रहे।

पावरकॉम के खिलाफ जूनियर इंजीनियरों का प्रदर्शन 14 से

कौंसिल ऑफ जूनियर इंजीनियर ने पंजाब राज्य बिजली बोर्ड की तरफ से लंबित मांगों को हल न किए जाने पर संघर्ष का फैसला किया गया है। संगठन के प्रदेश प्रधान इंजीनियर परमजीत सिंह खटड़ा और प्रदेश महासचिव इंजी. दविदर सिंह बताया कि पावरकॉम मैनेजमेंट की तरफ से लंबे समय से जूनियर इंजीनियरों की मांगों पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। इसके चलते जूनियर इंजीनियरों की तरफ से पावरकॉम के सर्कल दफ्तरों के आगे 14 जुलाई को रोष प्रदशर्न कर निगरान इंजीनियरों को ज्ञापन सौंपा जाएगा।

उन्होंने कहा कि 14 जुलाई से 31 जुलाई तक जूनियर इंजीनियरों की तरफ से बिजली कनेक्शनों की चेकिग और बकाया बिलों की उगाही के कामों का बायकाट किया जाएगा। जबकि 22 जुलाई को एक दिवसीय हड़ताल रहेगी। कौंसिल लीडरशिप के अनुसार जब पावरकॉम के लगभग सभी क्लेरिक्ल मुला•िाम कोविड -19 महामारी दौरान अपने घर में रहने के लिए मजबूर थे तो जूनियर इंजीनियर दिन-रात ड्यूटी पर रह कर निर्विघ्न बिजली की सप्लाई मुहैया करवा रहे हैं। पावरकॉम मैनेजमेंट मांगों को नजरअंदाज कर रहा है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.