अब कोरोना वैक्सीनेशन के 14 दिन बाद कर सकेंगे रक्तदान, ब्लड बैंक कम होने पर सेहत मंत्रालय ने गाइडलाइंस में किया संशोधन

सिविल अस्पताल बठिंडा के ब्लड बैंक की बात करे, तो वीरवार तक महज 17 यूनिट ही रक्त बचा था।

रक्त की आई कमी को देखते हुए सेहत मंत्रालय की तरफ से कोविड-19 के मद्देनजर चल रहे टीकाकरण को लेकर जारी हिदायतों में संशोधन किया है। जिसके मद्देनजर सबसे राहत वही बात यह है कि अब टीकाकरण करवाने वाले लोग 28 दिन की बजाय 14 दिन बाद रक्तदान कर सकेंगे।

Vikas_KumarThu, 06 May 2021 05:50 PM (IST)

बठिंडा, जेएनएन। कोरोना महामारी के चलते देशभर में सरकारी ब्लड बैंकों में रक्तदानियों की तरफ से रक्तदान नहीं करने की वजह से रक्त की आई कमी को देखते हुए केंद्रीय सेहत मंत्रालय की तरफ से कोविड-19 के मद्देनजर चल रहे टीकाकरण को लेकर जारी कुछ हिदायतों में संशोधन किया है। जिसके मद्देनजर सबसे राहत वही बात यह है कि अब टीकाकरण करवाने वाले लोग 28 दिन की बजाय 14 दिन बाद रक्तदान कर सकेंगे। इससे पहले तय 28 दिन की समय सीमा को लेकर जहां ब्लड बैंकों में रक्त की भारी कमी देखने को मिल रही थी, वहीं एमरजेंसी में दाखिल लोगों को उपचार के लिए रक्त हासिल करने में दिक्कत का सामना करना पड़ रहा था। फिलहाल सरकार के इस निर्देश के बाद ब्लड बैंकों में रक्तदान मुहिम को बल मिलेगा।

गौरतलब है कि सरकार ने 16 जनवरी 2021 से देश भर में हेल्थ वर्करों व बाद में फ्रंट लाइन वर्करों के लिए वैक्सीनेशन की मुहिम शुरू की थी। इसमें जिले की अधिकतर समाजसेवी संस्थाओं के वर्करों को भी शामिल किया गया। इस दौरान सरकार की हिदायते थी कि वैक्सीनेशन करवाने वाले 28 दिन से पहले रक्तदान नहीं करें। इससे बठिंडा के सरकारी व प्राइवेट अस्पतालों में खूनदान करने वाले लोगों की कमी रही, जिसके चलते जनवरी 2021 से लेकर अप्रैल तक ब्लड बैंकों में जरूरत से कही कम ब्लड यूनिट बचे थे। सिविल अस्पताल बठिंडा के ब्लड बैंक की बात करे, तो वीरवार तक महज 17 यूनिट ही रक्त बचा था।

वैक्सीनेशन के परिणामों पर विचार करने के बाद नई गाइडलाइन हुईं जारी

नई गाइडलाइन में कहा गया है कि सरकार ने 5 मार्च, 2021 को नेशनल ब्लड ट्रांसफ्यूजन काउंसिल की तरफ से जारी अधिसूचना में कहा था कि रक्तदान के उद्देश्य को लेकर कोविड-19 टीकाकरण के बाद 28 दिनों की एक डिफरल अवधि तय की गई थी। इस बाबत सभी ब्लड बैंकों को हिदायतें जारी कर इसका पालन करने के लिए कहा गया था। हाल ही में सरकार ने 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी सामान्य लोगों के लिए कोविड-19 टीकाकरण उपलब्ध कराया है। इसके बाद कोविड वैक्सीनेशन को लेकर किए जा रहे अवलोकन व रिसर्च को लेकर देश में एक विशेषज्ञ टीम डीजीएचएस डा. सुनील कुमार की अध्यक्षता में गठित की गई थी। इस टीम ने कोविड को लेकर पहले जारी हिदायतों व वैक्सीनेशन के परिणामों पर विचार करने के बाद नई गाइडलाइन जारी की है।

टीकाकरण से पहले ज्यादा से ज्यादा रक्तदान करने की अपील

टीम के बीच विस्तृत विचार-विमर्श के बाद वर्तमान में उपलब्ध कोविड-19 वैक्सीन की कोई भी खुराक व टीका लगाने के बाद रक्त दाताओं के लिए अलग-अलग अवधि को 14 दिनों तक कम करने का निर्णय लिया गया है। रक्तदान के लिए अन्य पहले से तय मापदंड व दिशानिर्देशों को ध्यान में रखते नियमित रूप से समीक्षा की जाएगी। वहीं बठिंडा ब्लड बैंक की इंचार्ज डा. रितिका गर्ग ने शहरवासियों से अपील कि टीकाकरण करवाने से पहले ज्यादा से ज्यादा रक्तदान करे, ताकि रक्त की कमी को पूरा किया जा सके।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.