top menutop menutop menu

घर से झगड़कर आई चंडीगढ़ की युवती को पहले बनाया नशेड़ी, फिर करवाने लगे देह व्यापार

जेएनएन, लुधियाना। चंडीगढ़ की युवती परिवार वालों से झगड़ा होने के बाद घर से चली गई, लेकिन इसके बाद वह ऐसे जाल में फंसी कि जिसका उसे पता भी नहीं चला। युवती लुधियाना चली गई। वहां एक महिला उसे अपने घर ले गई। महिला ने उसे धीरे-धीरे नशे के दलदल में धकेल दिया और फिर उससे देह व्यापार करवाने लगी। युवती को जब कुछ गलत करने का आभास हुआ तो उसने वुमेन हेल्पलाइन पर इसकी शिकायत दी। मामले में युवती से देह व्यापार का धंधा करने वाले गिरोह के चार सदस्य पुलिस ने गिरफ्तार किए हैं। आरोपितों में दो महिलाएं और दो युवक शामिल हैं।

युवती के मुताबिक आरोपित नशा खिलाकर पिछले कई महीने से आरोपित देह व्यापार का धंधा करवा रहे थे। आरोपितों की पहचान कोट मंगल सिंह नगर का राजनदीप सिंह उर्फ गगन, टिब्बा का आशीष मसीह उर्फ आशु, दुगरी की रमनदीप कौर उर्फ सिमरन और टिब्बा रोड की सुनीता रानी के रूप में हुई है। पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ मामला दर्ज कर पूछताछ करनी शुरू कर दी है।

परिवार वालों से लड़कर आई थी युवती

एडीसीपी-दो जसकरण जीत सिंह तेजा ने बताया कि युवती चंडीगढ़ की रहने वाली है। दस सितंबर 2019 में पीड़िता अपने परिवारवालों से लड़कर मंडी लाधुका के रेलवे स्टेशन पर आ गई थी। रेलवे स्टेशन पर पीड़िता की मुलाकात रमनदीप कौर के साथ हो गई। रमनदीप ने उसको बातों में फंसाकर दुगरी ले आई। दुगरी लाने के बाद रमनदीप ने उसको नशा देना शुरू कर दिया। रमनदीप का दोस्त गगन अकसर उसके घर आता था। रमनदीप किसी काम से घर से बाहर गई हुई थी। इस दौरान आरोपित गगन ने तीन दिन तक पीडि़ता के साथ दुष्कर्म किया।

युवती ने वूमेन हेल्पलाइन से किया संपर्क

रमनदीप ने घर वापस आकर पीड़िता को टिब्बा रोड निवासी सुनीता रानी को सौंप दिया। सुनीता ने अपने एक साथी आशीष के साथ मिलकर युवती को देह व्यापार के धंधे में धकेल दिया। आरोपित युवती को नशा देते थे और उसके बाद देह व्यापार करवाते थे। करीब एक महीना पहले युवती आरोपितों की चंगुल से छूटकर लुधियाना रेलवे स्टेशन पर आ गई। इस दौरान वूमेन हेल्पलाइन के सदस्यों की मुलाकात युवती के साथ हो गई।

इसके बाद वूमेन हेल्पलाइन के सदस्य उसे दोहारा स्थित सेंटर पर ले गए, जहां पीडि़ता के परिवार के सदस्यों के साथ उसकी मुलाकात करवाई। इस दौरान युवती ने सारी बात अपने परिजनों और पुलिस को बता दी। पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया। पुलिस आरोपितों से पूछताछ करने में जुटी हुई है।

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.