लुधियाना में भाजपा और यूथ कांग्रेसियाें में झड़प, महंगाई के मुद्दे पर बहस के बाद चले जूते-पत्थर; 10 चाेटिल

Protest In Ludhiana यूथ कांग्रेस के जिला प्रधान योगेश हांडा ने कहा कि वे वर्करों के साथ शांतिपूर्ण प्रदर्शन करने गए थे। यूथ कांग्रेस की भीड़ को देख कर भाजपाई घबरा गए। भाजपा कार्यकर्ताओं ने पहले उपर से पत्थर मारे।

Vipin KumarSat, 11 Sep 2021 01:40 PM (IST)
यूथ कांग्रेस के जिला प्रधान योगेश टांडा के नेतृत्व में भाजपा दफ्तर का घेराव करने आए वर्कर। (जागरण)

जागरण संवाददाता, लुधियाना। Protest In Ludhiana: भाजपा की ओर से करोड़ों रुपये के घपले का आरोप लगाने एवं इंप्रूवमेंट ट्रस्ट के दफ्तर को ताला जड़ने के बाद शहर में राजनीति चरम पर है। कांग्रेसियों ने पलटवार करते हुए देश में बढ़ रही महंगाई को मुद्दा बनाकर शनिवार को भाजपा दफ्तर का घेराव कर पीएम नरेंद्र मोदी का पुतला फूंकना था, लेकिन वहां पर भाजपा एवं कांग्रेस वर्करों आमने सामने आ गए और उनमें जबरदस्त झड़प हो गई।

इस दौरान टाफी, बिस्किट से लेकर टमाटर, जूते, चप्पल के अलावा पत्थर भी चले। वर्करों को खदेड़ने के लिए पुलिस को हल्का बल प्रयोग भी करना पड़ा। इस झड़प में दोनों पक्षों के दस लोग चोटिल हो गए। दोनों पक्षों की तरफ से जोरदार नारेबाजी की गई और एक दूसरे को ललकारते रहे। पुलिस के उच्चाधिकारियों ने वर्करों को समझा बुझा कर वापस भेजा। उधर, प्रदेश भाजपा प्रधान अश्वनी शर्मा भी डीएमसी अस्पताल में दाखिल वर्कर का हालचाल पूछने पहुंचे। यूथ कांग्रेस ने शनिवार को भाजपा दफ्तर का घेराव करने का ऐलान किया था।

नतीजतन मौजूदा राजनीतिक हालात को देखते हुए पुलिस ने घंटाघर स्थित भाजपा दफ्तर की तीन लेयर की सुरक्षा व्यवस्था की। बैरिकेटिंग की गई और दफ्तर को पुलिस छावनी में बदल दिया गया। यूथ कांग्रेस प्रधान योगेश हांडा के नेतृत्व में कांग्रेस भवन से हाथ में पोस्टर बैनर एवं झंडे लेकर नारे लगाते हुए भाजपा दफ्तर की तरफ बढ़े। दफ्तर के नजदीक ही पहले वर्करों की पुलिस के साथ धक्का मुक्की हुई, हाथापाई हुई। पुलिस ने उनको रोकने का प्रयास किया, लेकिन वे आगे बढ़ गए और पहली बैरिकेटिंग को भी पार कर गए। पुलिस ने उनको वहीं रोक लिया।

इस दौरान पहले टाफी एवं बिस्किट फेंके गए। फिर मामला टमाटर, जूते, चप्पल एवं पत्थरों तक पहुंच गया। इसके साथ ही घंटाघर में माहौल तनावपूर्ण हो गया और आम राहगीर भी सहम गए।हालात खराब होते देख मौके पर पुलिस के उच्चाधिकारी जेसीपी जे एलनचेलियन, दीपक पारेख समेत कई अधिकारी एवं भारी पुलिस फोर्स पहुंच गई। उच्चाधिकारियों ने वर्करों एवं नेताओं को समझाया और उनको वहां से भेज दिया। तब जाकर स्थिति सामान्य हुई।

भाजपा वर्करों ने पहले की कर रखी थी तैयारी:हांडा

यूथ कांग्रेस के जिला प्रधान योगेश हांडा ने कहा कि वे वर्करों के साथ शांतिपूर्ण प्रदर्शन करने गए थे। यूथ कांग्रेस की भीड़ को देख कर भाजपाई घबरा गए। भाजपा कार्यकर्ताओं ने पहले उपर से पत्थर मारे। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा वर्करों ने पहले से ही तैयारी कर रखी थी। यह निंदनीय कृत्य है। हांडा ने कहा कि उनके चार वर्कर चोटिल हुए हैं। इनमें साहिल बस्सी का सीएमसी में इलाज चल रहा है। उसकी आंख में चोट लगी है। जबकि चेतन थापर का कंधा फ्रेक्चर हुआ है। कशिश मेहता के नाक, दांत एवं होंठ पर चोट लगी है। इसके अलावा कमल के माथे पर चोट हैं।

पुलिस कराएगी मामले की जांच:एडीसीपी

एडीसीपी डा. प्रज्ञा जैन का कहना है कि इस मामले की विस्तृत जांच की जाएगी। जांच के बाद आरोपितों के खिलाफ कानून के अनुसार कार्रवाई की जाएगी। पुलिस सभी तथ्य इक्टठे कर रही है।

यह भी पढ़ें-Explosion In Punjab: राजपुरा में घर में जबरदस्त विस्फाेट से कमरे की छत उड़ी, एक लड़की की माैत; तीन झुलसे

 

यह भी पढ़ें-Breast Milk pump Bank: लुधियाना के मदर एंड चाइल्ड अस्पताल में पंजाब का पहला ब्रेस्ट मिल्क पंप बैंक स्थापित, जानें खासियत

 

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.