लुधियाना में डाइंग फैक्ट्री से कपड़े के 48 थान चोरी करने वाले गिरोह के तीन सदस्य गिरफ्तार

गांव सीढ़ा स्थित डाइंग फैक्ट्री से 16-17 मई की रात चोरी हुई थी। सांकेतिक फोटो

गांव सीढ़ा में 16-17 मई की रात आरोपितों ने डाइंग की दीवार फांद कर अंदर पड़ा वो कपड़ा चोरी कर लिया और महिंद्रा पिकअप में लोड करके फरार हो गए। इलाके में लगे सीसीटीवी कैमरे में पुलिस को उनकी फुटेज मिल गई।

Pankaj DwivediTue, 18 May 2021 01:33 PM (IST)

लुधियाना, जेएनएन। गांव सीढ़ा स्थित डाइंग फैक्ट्री से लाखों का कपड़ा चोरी करने वाले गैंग के तीन सदस्यों को थाना मेहरबान पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उनके कब्जे से महिंद्रा गाड़ी तथा उसमें रखे चोरी के 48 थान कपड़ा भी बरामद कर लिया गया है। आरोपितों पर केस दर्ज करके मंगलवार अदालत में पेश किया गया, जहां से दो दिन का रिमांड हासिल करके कड़ी पूछताछ की जा रही है। 

एएसआइ बलकार सिंह ने बताया कि आरोपितों की पहचान गांव सीढ़ा निवासी तेज पाल, हरकेश कुमार और जसप्रीत सिंह के रूप में हुई। तेज पाल व हरकेश कुमार सगे भाई हैं। पुलिस ने मोहल्ला हरबंसपुरा की गली नंबर 2 निवासी जसवीर सिंह की शिकायत पर उनके खिलाफ केस दर्ज किया। जसवीर ने बताया कि गांव सीढ़ा में उसकी राठौर डाइंग फैक्ट्री है। जहां होजरी का कपड़ा धोया जाता है। विगत दिनों एसआर फैब्रिक्स ने 48 थान कपड़ा धुलाई के लिए भेजा था। 16-17 मई की रात आरोपितों ने डाइंग की दीवार फांद कर अंदर पड़ा वो कपड़ा चोरी कर लिया और महिंद्रा पिकअप में लोड करके फरार हो गए। इलाके में लगे सीसीटीवी कैमरे में पुलिस को उनकी फुटेज मिल गई। जिसके आधार पर सोमवार शाम तीनों को गिरफ्तार कर लिया गया। बलकार सिंह ने कहा कि पूछताछ के दौरान आरोपितों का पुराना रिकार्ड चेक किया जा रहा है। 

दुकान के बाहर गाड़ी धोने से रोका तो किया हमला 

लुधियाना। हैबोवाल के चूहड़पुर रोड क्षेत्र में दुकान के बाहर गाड़ी धो रहे पड़ोसी को रोका तो उसने परिवार समेत दुकानदार पर हमला कर दिया। मारपीट कर घायल करने के बाद वह उसे जान से मारने की धमकी देते फरार हो गए। थाना हैबोवाल पुलिस ने सुखविंदर सिंह, उसकी पत्नी कुलवंत कौर, बेटी पायल समेत नवदीप सिंह, परवीन पुरी और उनके 3 अज्ञात साथियों पर केस दर्ज करके उनकी तलाश शुरू की है।

एएसआइ गुरजिंदर सिंह ने बताया कि यह केस चूहड़पुर रोड स्थित मनी बिल्डिंग मैटेरियल के हिमांशु अरोड़ा की शिकायत पर दर्ज किया गया। अपने बयान में उसने बताया कि आरोपित सुखविंदर की दुकान उसके बिलकुल बगल में है। 12 मई वो उसकी दुकान के सामने अपनी गाड़ी धो रहा था, जिससे बाहर कीचड़ हो गया। उसने जब उसे रोका तो आरोपितों ने हमला कर दिया। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.