दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

लुधियाना की मेघा मल्होत्रा का हत्यारा यूपी से गिरफ्तार, रंग-रोगन के बहाने पहले भी कर चुका है दो हत्याएं

पुलिस की गिरफ्त में पकड़ा गया हत्यारोपित। (जागरण)

आरोपित मोहन सिंह ने पूछताछ में बताया कि वह रंग-रोगन का अधूरा काम पूरा करने के बहाने 10 मई को मेघा के घर में दाखिल हुआ। रुमाल व चार्जर की तार से उसकी हत्या करने के बाद वह चोरी करके फरार हो गया था।

Pankaj DwivediMon, 17 May 2021 03:25 PM (IST)

लुधियाना, जेएनएन। शास्त्री नगर में महिला व उसके नौकर की हत्या मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। जेल से पैरोल पर छूटे कैदी ने भामियां खुर्द स्थित जैन एंक्लेव में रहने वाली मेघा मल्होत्रा की बेरहमी से हत्या की थी। कई दिन से उसका पीछा कर रही पुलिस ने उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले से उसे गिरफ्तार कर लिया। मामले में नामजद करके सोमवार उसे अदालत में पेश किया गया, जहां से रिमांड हासिल करके कड़ी पूछताछ की जा रही है। 

पुलिस कमिश्नर राकेश अग्रवाल ने बताया कि आरोपित मोहन सिंह (45) मुंडियां कलां के 33 फुटा रोड स्थित बादल कालोनी की हैवन सिटी में राज कुमार जोशी के यहां किराये पर रहता था। वो मूल रूप से उत्तर प्रदेश के महाराज गंज के थाना गुगली के गांव धनगढ़ी का रहने वाला है। 10 मई को मेघा मल्होत्रा की हत्या के बाद पुलिस ने पति करण मल्होत्रा के बयान पर हत्या के आराेप में केस दर्ज करके छानबीन शुरू की थी। उसी दौरान पुलिस के हाथ एक सीसीटीवी फुटेज लगा था। इसमें आरोपित जाता नजर आ रहा था। उसी के आधार पर 14 मई को उसे उत्तर प्रदेश से काबू कर लिया गया। 

यह भी पढ़ें - Gangsters Attack On Punjab Police: पिता थे पुलिस इंस्पेक्टर, बेटा बन गया गैंगस्टर; जयपाल फिराेजपुरिया पर दर्ज हैं 50 केस

प्राथमिक पूछताछ में आरोपित ने बताया कि मई 2003 में वह शास्त्री नगर के एक घर में रंग करने के बहाने चोरी की नीयत से घुस गया था। वहां उसने 38 वर्षीय महिला पूनम और उसके 17 वर्षीय नौकर छोटू की हत्या कर दी थी। उस केस में वह उम्रकैद की सजा काट रहा था। कोविड-19 के चलते जून 2020 में वो पैरोल पर जेल से बाहर आया था। कुछ दिन पहले उसने मेघा मल्होत्रा के घर में पेंट का काम किया था। उसी दौरान उसने घर की रेकी कर ली थी। उसे पता चल गया था कि मेघा का पति सुबह ही काम पर चला जाता है। उसके बाद वो घर में छोटे बच्चे समेत अकेली ही रहती है।

योजना के तहत पेंट का काम अधूरा छोड़ा था मोहन ने 

अपनी योजना को सिरे चढ़ाने के लिए उसने पेंट का कुछ काम अधूरा छोड़ दिया था। उस अधूरे काम काे पूरा करने के बहाने वह 10 मई को मेघा के घर में दाखिल हुआ। रुमाल व चार्जर की तार से मेघा की हत्या करने के बाद वो चोरी करके फरार हो गया। पुलिस ने उसके कब्जे से मृतका का पर्स, आधार कार्ड, एटीएम कार्ड, चोरी की रकम में से 5 हजार की नगदी, वारदात में इस्तेमाल किया गया रुमाल, पेंट करने वाला ब्रश तथा मग बरामद किया। 

यह भी पढ़ें - Black Fungus In Punjab: क्या Coronavirus की तरह एक व्यक्ति से दूसरे को फैलता है Black Fungus? जानिए

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.