सीएम चन्नी के साथ मीटिंग बेनतीजा, लुधियाना पीएयू और गडवासू के टीचर्स का धरना रहेगा जारी

पीएयू टीचर्स एसोसिएशन के प्रेसिडेंट डा. हरमीत सिंह किंगरा मरण व्रत पर थे। इसके बाद बुधवार सुबह मंत्री आशु पीएयू में पहुंचे। मंत्री ने फिर मरण व्रत पर बैठे डा. किंगरा को जूस पिलाकर मरण व्रत खत्म करवाया। हालांकि टीचर्स ने धरना जारी रखने की बात कही है।

Vipin KumarWed, 08 Dec 2021 01:58 PM (IST)
लुधियाना पीएयू-गडवासू टीचर्स की हड़ताल खत्म। (जागरण)

जागरण संवाददाता, लुधियाना। यूजीसी सातवें पे स्केल की मांग को लेकर पंजाब कृषि विश्वविद्यालय और गुरु अंगद देव विश्वविद्यालय का टीचिंग स्टाफ का पिछले 7 दिनों से कामकाज ठप करके चल रहा धरना जारी रहेगा। मंगलवार शाम को दोनों यूनिवर्सिटी के टीचिंग स्टाफ ने पहले वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल से मुलाकात की, फिर रात्रि में सीएम चन्नी से मिले। सीएम ने टीचिंग स्टाफ को भरोसा दिलाया कि सातवें यूजीसी पे स्केल की मांग को पूरा किया जाएगा।  हालांकि टीचर्स का कहना है कि जब तक नाेटिफिकेशन जारी नहीं किया जाता तब तक धरना जारी रहेगा।

लुधियाना में मरण व्रत पर बैठे किंगरा से मिलते कैबिनेट मंत्री भारत भूषण आशु। (जागरण)

पीएयू टीचर्स एसोसिएशन के प्रेसिडेंट डा. हरमीत सिंह किंगरा मरण व्रत पर थे। इसके बाद बुधवार सुबह मंत्री आशु पीएयू में पहुंचे। धरने पर बैठे टीचिंग स्टाफ को संबोधित किया। मंत्री ने फिर मरण व्रत पर बैठे डा. किंगरा को जूस पिलाकर मरण व्रत खत्म करवाया। हालांकि टीचर्स ने धरना जारी रखने की बात कही है।

यह भी पढ़ें-Omicron Variant Alert! दुबई से लाैटे काराेबारी के पाजिटिव आने से हड़कंप, विदेश से लौटे 150 लोगों के सैंपल जांच काे भेजे

पीएयू में चार हजार से अधिक छात्र करते हैं पढ़ाई

गौरतलब है कि पीएयू लुधियाना में चार हजार से अधिक और गडवासू में करीब एक हजार छात्र पढ़ाई करते हैं। हड़ताल के कारण दोनों यूनिवर्सिटी में पिछले सात दिन से शिक्षा प्रभावित हो रही है। बताया जा रहा है कि शिक्षकों की हड़ताल के कारण दिसंबर में होने वाली परीक्षाओं को स्थगित करने की नाैबत आ गई है। यूनिवर्सिटी में सेमिनार भी नहीं हो रहे हैं। फील्ड में खोज कार्य बंद हो चुके हैं। वेटरनरी यूनिवर्सिटी के अस्पतालों व लैब पर भी ताला लटका हुआ है। पशुपालक इस कारण परेशान हो रहे हैं। हड़ताल खत्म नहीं हाेने से लाेगाें काे अब राहत मिलने के आसार नजर नहीं आ रहे हैं। इसके साथ ही परीक्षाएं हाेने पर भी संकट के बादल है।

यह भी पढ़ें-Punjab Roadways Strike: पंजाब में बसों की हड़ताल से यात्री बेहाल, लुधियाना में कांट्रैक्ट कर्मचारियाें ने की नारेबाजी

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.