एएस मैनेजमेंट की चुनावी बैठक में भी भिड़े सत्ता पक्ष और विपक्ष

खन्ना की सात शिक्षण संस्थानों को चलाने वाली एएस मैनेजमेंट में सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच पिछले कुछ महीनों से चली आ रही जबरदस्त तकरार थमने का नाम नहीं ले रही है। हर बैठक में जमकर हंगामा हो रहा है। शनिवार को ही मैनेजमेंट के पदाधिकारियों का चुनाव करने के लिए रखी गई बैठक में भी सत्ता और विपक्ष आपस में बुरी तरह भिड़ गए।

JagranSun, 25 Jul 2021 07:22 AM (IST)
एएस मैनेजमेंट की चुनावी बैठक में भी भिड़े सत्ता पक्ष और विपक्ष

जागरण संवाददाता, खन्ना : खन्ना की सात शिक्षण संस्थानों को चलाने वाली एएस मैनेजमेंट में सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच पिछले कुछ महीनों से चली आ रही जबरदस्त तकरार थमने का नाम नहीं ले रही है। हर बैठक में जमकर हंगामा हो रहा है। शनिवार को ही मैनेजमेंट के पदाधिकारियों का चुनाव करने के लिए रखी गई बैठक में भी सत्ता और विपक्ष आपस में बुरी तरह भिड़ गए। करीब आधा घंटे तक दोनों पक्षों में बहसबाजी और तकरार जारी रही। दोनों ने एक दूसरे पर बैठक में आरोप लगाए।

बैठक की शुरुआत में ही जब पदाधिकारियों का चुनाव शुरू हुआ तो एक से अधिक पद पर एक ही व्यक्ति को नियुक्त करने पर विपक्ष ने आपत्ति जताई। भाजपा समर्थित विपक्ष ने कांग्रेस समर्थित सत्ता पक्ष को संविधान के खिलाफ काम करने और संस्थान को मजाक बना कर रखने के आरोप लगाए। भाजपा के राजेश डाली और रजनीश बेदी की महासचिव बरिदर डेविट से तीखी बहस हुई। इस बहस में दोनों पक्षों के अन्य सदस्य भी कूद पड़े। मनीष भांबरी की तो महासचिव डेविट से जबरदस्त तूं-तू् मैं-मैं हुई। इस दौरान सभी संस्थानों के प्रिसिपल चुपचाप बैठ कर सारा मंजर देखते रहे।

भाजपा के करूण अरोड़ा और अजय सूद ने भी सत्ता पक्ष पर आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि सत्ता पक्ष की तानाशाही से कीं संस्थान बंद होने के कगार पर हैं। उन्होंने सारे फैसले विधानसभा चुनाव को केंद्र बिदू बनाकर करने के आरोप सत्ता पक्ष पर लगाए।

आपत्ति जता फंसे अमित वर्मा

कांग्रेस समर्थित गुट के सदस्य और एएस कालेज फार वूमेन के सचिव एडवोकेट अमित वर्मा विपक्ष पर आपत्ति जता तकनीकी रूप से फंस गए। बहुमत के चलते सभी पदों पर कांग्रेस समर्थित गुट जीत रहा था। इस बीच एक पद पर चुनाव हारने के बाद भाजपा के रजनीश बेदी का नाम दूसरे पद के लिए आगे किया। इस पर एडवोकेट अमित वर्मा ने एतराज जताया कि संविधान के अनुसार दो पदों पर चुनाव बेदी नहीं लड़ सकते, जबकि बेदी किसी भी पद पर जीते नहीं थे और चुनाव वे लड़ सकते थे। इसके बाद कांग्रेस के संजू साहनेवालिया एक पद का चुनाव जीतने के बाद दूसरे पद के लिए खड़े हुए तो भाजपा के करूण अरोड़ा ने अमित वर्मा पर निशाना साध दिया। करूण ने कहा कि दो मिनट पहले संविधान की बात करने वाले अमित वर्मा अब चुप क्यों हैं ? इस पर फंसे अमित वर्मा ने कहा कि यह उनका मौलिक अधिकार है कि वे किस पर आपत्ति करें और किस पर नहीं।

सत्ता पक्ष ने संविधान को मजाक बनाया : डाली

भाजपा के राजेश डाली ने कहा कि सत्ता पक्ष ने संविधान को मजाक बना दिया है। दो पदों पर एक ही व्यक्ति कैसे रह सकता है। ऐसे तो सीधे तौर पर संस्थानों को भी नुक्सान पहुंचाया जा रहा है। सत्ता पक्ष की अव्यवस्था के चलते पहले ही संस्थान घाटे में चल रहे हैं। इतनी तानाशाही और जिद अच्छी नहीं होती।

पहले भी ये होता आया है : मिटू

मैनेजमेंट के प्रधान शमिदर सिंह मिटू ने कहा कि जिद वाली बात नहीं है। पहले भी एक व्यक्ति दो पदों पर काम करते रहे हैं। वे लोग केवल संस्थान के विकास और भलाई के लिए काम कर रहे हैं। फिर भी वे इस मामले को दोबारा देख कर किसी विशेषज्ञ की राय ले लेंगे। :::::::::::::::::

शमिदर सिंह मिटू फिर बने एएस मैनेजमेंट के प्रधान

जागरण संवाददाता, खन्ना : खन्ना की प्रतिष्ठित एएस मैनेजमेंट के पदादिकारियों का मासिक चुनाव शनिवार को संपन्न हो गया। बहुमत के चलते कांग्रेस समर्थित गुट के सदस्य ही सभी पदों पर चुने गए। शमिदर सिंह मिटू दूसरी बार फिर से मैनेजमेंट के प्रधान चुने गए हैं। उनके मुकाबले भाजपा ने विजय डायमंड को उतारा। उपप्रधान पद के लिए कांग्रेस के सुशील शर्मा ने भाजपा के अजय सूद को, महासचिव के लिए कांग्रेस समर्थक गुट के बरिदर डेविट ने भाजपा के जतिदर देवगण को, संयुक्त सचिव के लिए कांग्रेस के सुशील शर्मा ने भाजपा के रजनीश बेदी को, इंटरनल आडीटर के लिए कांग्रेस के विकास मेहता ने भाजपा के राजेश डाली को हराया।

इसी तरह एएस कालेज सचिव के लिए कांग्रेस के तजिदर शर्मा ने भाजपा के करूण अरोड़ा को, एएस कालेज फार वुमेन के सचिव के लिए कांग्रेस के अमित वर्मा ने भाजपा के मोहित गोयल को, एएस कालेज आफ एजुकेशन सचिव के लिए कांग्रेस के दिनेश शर्मा निर्विरोध, एएस ग्रुप आफ इंस्टीट्यूट्स के सचिव के लिए संजीव कुमार संजू साहनेवालिया निर्विरोध, एएस सीनियर सेकेंडरी स्कूल मैनेजर के लिए कांग्रेस के एडवोकेट सुमित लुथरा निर्विरोध, एएस माडर्न सीनियर सेकेंडरी स्कूल सचिव के लिए कांग्रेस के नवदीप शर्मा ने भाजपा के रजनीश बेदी को और एमजीसीएएस माडल स्कूल के मैनेजर के लिए काग्रेस के संजीव कुमार संजू साहनेवालिया ने भाजपा के मनीष भांबरी को हरा दिया।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.