संत की उपस्थिति किसी के लिए दुविधा उत्पन्न नहीं करती : कुमार स्वामी

संत की उपस्थिति किसी के लिए दुविधा उत्पन्न नहीं करती : कुमार स्वामी
Publish Date:Thu, 24 Sep 2020 04:45 AM (IST) Author: Jagran

जेएनएन, लुधियाना : लक्ष्मी नारायण धाम के प्रमुख संत ब्रह्मऋषि कुमार स्वामी ने संगत को ऑनलाइन प्रवचन देते हुए कहा कि संत की उपस्थिति किसी के लिए दुविधा उत्पन्न नहीं करती। संत की उपस्थिति नाकारात्मकता व विषमता को खत्म कर देती है। एक बार बाबा फरीद से मिलने की चाह में सतगुरु नानक देव जी ने उनके डेरे पर संदेशा भिजवाया। बाबा फरीद ने उसके उत्तर में एक दूध का लबालब भरा कटोरा उस सिख के हाथों वापस भिजवा दिया। सतगुरु नानक देव जी ने उसे देखा और एक फूल की पंखुरी को उस दूध से भरे हुए कटोरे में डालकर कहा कि अब तुम वापस बाबा फरीद के पास जाओ। बाबा फरीद ने उस कटोरे को देखकर उस सिख को कहा कि आप सतगुरु नानक देव जी को डेरे पर आने के लिए कह दो। 'मां की धुन में रहता हूं' गाना किया रिलीज संस, लुधियाना : श्री दुर्गा माता मंदिर जगराओ पुल में ट्रस्टी के सेक्रेटरी संजय महेंद्र बंपी, केसी गुप्ता की अध्यक्षता में समारोह का आयोजन किया गया। भक्तों ने माता रानी के चरणों में हाजिरी लगाकर कोरोना वायरस से जल्द मुक्ति की कामना की। इस दौरान धार्मिक गायक कुमार संजीव, भाविक जग्गी की नई भेट 'मां की धुन में रहता हूं' रिली•ा की गई।

पेशकश टी सीरिज कम्पनी द्वारा संगीत गगन सिद्ध, वीडियो हरप्रीत सिंह वालिया, लेखक रवि शर्मा दास, सहयोगी हितेश जग्गी, रिचा जग्गी शामिल है। इस दौरान केके सूरी, संदीप बजाज ने कहा कुमार संजीव सनातन धर्म के सेवादार बनके धर्म का प्रचार कर रहे है। रजनीश सिगला हितेश जग्गी परिवार ने सभी का धन्यवाद किया। इस अवसर पर सीनियर डिप्टी मेयर श्याम सुंदर मल्होत्रा, वरिदर मित्तल, बलवीर गुप्ता, अमित अरोड़ा, संदीप बजाज, केके सूरी, आर डी शर्मा, अश्वनी जैन, संदीप गुप्ता, दीपक अरोड़ा, संजीव बंटी, पिकी मित्तल, पंडित हरिमोहन, राजीव शर्मा मौजूद थे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.