Punjab New Cabinet: गुरकीरत कोटली के मंत्री बनने पर गदगद खन्ना के कांग्रेसी, इंटनेट मीडिया पर लगी बधाइयां देने वालों की झड़ी

Punjab New Cabinet खन्ना के विधायक गुरकीरत सिंह कोटली अब चन्नी कैबिनेट में मंत्री बनने का अवसर मिला है। कोटली पूर्व मुख्यमंत्री बेअंत सिंह के पौत्र पूर्व ट्रांसपोर्ट मंत्री तेज प्रकाश सिंह के बेटे और लुधियाना के सांसद रवनीत सिंह बिट्टू के चचेरे भाई हैं।

Pankaj DwivediSat, 25 Sep 2021 01:57 PM (IST)
गुरकीरत कोटली का मुंह मीठा कराते संसद रवनीत सिंह बिट्टू साथ में पायल के विधायक लखवीर सिंह लक्खा।

सचिन आनंद, खन्ना (लुधियाना)। Punjab New Cabinet Ministers आखिरकार खन्ना के कांग्रेसियों की मुराद पूरी हो ही है। दो बार कैप्टन की कैबिनेट में मंत्री बनने से चूक चुके खन्ना के विधायक गुरकीरत सिंह कोटली (MLA Gurkirat Singh Kotli) अब चन्नी कैबिनेट में मंत्री बनने का अवसर मिल ही गया है। कोटली को मिली इस नई पदोन्नति से खन्ना में उनके समर्थक कांग्रेसी गदगद हो गए हैं। घोषणा के साथ ही कोटली को बधाई देने वालों की इंटरनेट पर झड़ी लग गई है।

2012 में पहली बार खन्ना से विधायक बने कोटली पूर्व मुख्यमंत्री बेअंत सिंह के पौत्र, पूर्व ट्रांसपोर्ट मंत्री तेज प्रकाश सिंह के बेटे और लुधियाना के सांसद रवनीत सिंह बिट्टू के चचेरे भाई हैं। पूर्व मंत्री गुरकंवल कौर गुरकीरत सिंह की बुआ हैं। सियासत उन्हें विरासत में मिली है। वे आल इंडिया कांग्रेस के सचिव के साथ हिमाचल प्रदेश कांग्रेस के सह प्रभारी भी रहे हैं।

काेटली ने शनिवार काे दिल्ली के गुरुद्वारा श्री बंगला साहिब और श्री बाला जी मंदिर में माथा टेकने की फोटो अपने फेसबुक पेज पर शेयर की हैं। इसके अलावा उनके चचेरे भाई सांसद रवनीत सिंह बिट्टू ने मुंह मीठा करवा बधाई दी। गाैरतलब है कि पिछले दिनाें नवजाेत सिद्धू के साथ बैठक के बाद काेटली के कैबिनेट में शामिल हाेने काे लेकर चर्चाएं चल रही थी।

सिद्धू का साथ देने का ईनाम!

सियासी गलियारों में कोटली को मंत्रिमंडल में स्थान मिलने के पीछे कारण उनका खुलकर नवजोत सिंह सिद्दहू का साथ देना है। सिद्दहू के पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष बनने से पहले ही कोटली ने उन्हें खन्ना बुलाकर भव्य स्वागत किया था और फूलों की वर्षा की थी। कोटली मत्रिमंडल में स्थान नहीं मिलने के कारण कैप्टन से नाराज थे और दूसरे मत्रिमंडल विस्तार में स्थान नहीं मिलने पर उन्होंने खुलकर अपनी नाराजगी जताई थी।

यह भी पढ़ें - Punjab New Cabinet: परगट सिंह ने नवजोत सिद्धू के साथ ज्वाइन की थी कांग्रेस, पूर्व हाकी कैप्टन वापसी करने में माहिर

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.