Kabaddi World Cup के आयोजन पर खर्च लाखाें रुपये फंसे, बठिंडा के होटल मालिकाें काे 6 साल बाद भी नहीं हुआ भुगतान

Kabaddi World Cup बठिंडा के होटल मालिकों के साथ ही फ्लावर डेकोरेशनकैटरिंगसांउड टेंट आदि के 44 लाख 63 हजार 775 रुपये की अदायगी अभी तक नहीं हो पाई है। बठिंडा के 11 होटलों में कबड्डी खिलाड़ी ठहरे थे।

Vipin KumarThu, 16 Sep 2021 12:18 PM (IST)
कबड्डी विश्व कप आयोजन पर खर्च हुए 44.43 लाख रुपये अभी भी फंसे। (सांकेतिक तस्वीर)

बठिंडा, [गुरप्रेम लहरी]। Kabaddi World Cup 2015-16 में हुए कबड्डी विश्व कप के आयोजन को अब 5 साल बीत चुके हैं लेकिन आयोजन पर खर्च हुए 44.43 लाख रुपये अभी भी फंसे हैं। कबड्डी का आयोजन तो शिरोमणि अकाली दल की सरकार ने 2016 में करवाया लेकिन पेमेंट का भुगतान न उस समय हुआ और न ही मौजूदा कांग्रेस सरकार कर रही है।

बठिंडा के होटल मालिकों के अलावा फ्लावर डेकोरेशन,कैटरिंग,सांउड, टेंट आदि के 44 लाख 63 हजार 775 रुपये की अदायगी अभी तक नहीं हो पाई है। बठिंडा के 11 होटलों में कबड्डी खिलाड़ी ठहरे थे। इन पर खर्च 35 लाख 92 हजार 522 रुपये बकाया हैं। हालांकि होटल एसोसिएशन ने कई बार मंत्रियों से इस संबंधी बैठकें भी की हैं, लेकिन उनको सिर्फ आश्वसन ही मिला।

इसलिए फंसा है पेंच

बादल सरकार विश्व कप कबड्डी का आयोजन करने के कुछ माह बाद ही चुनाव आ गए। इसके बाद राज्य में कांग्रेस की सरकार आ गई और कबड्डी कप पर खर्च हुई राशि की पेंमेंट फंस गई।

खेल विभाग को नोटिस

पंजाब होटल व रिजॉर्ट एसोसिएशन के प्रधान सतीश अरोड़ा ने कहा कि कोरोना के कारण होटल इंडस्ट्री बुरे हालातों में से गुजर रही है। कबड्डी कप के आयोजन पर खर्च राशि की बकाया राशि की पेमेंट के लिए वित्त मंत्री मनप्रीत बादल व टूरिज्म विभाग के सचिव व डायरेक्टर से कई फरियाद की जा चुकी है लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। अब खेल विभाग के डायरेक्टर को कोर्ट से नोटिस भी भेजा है।

11 होटलों का है बकाया

एचबीएन            9,45,624

कंफर्ट इन          7,26,240

होटल सेपल       5,59,810

होटल स्टैला       5,54,136

होटल जन्नत        4,02146

बाहिया फोर्ट      1,83,073

सनसिटी क्लासिक   57,199

होटल महफिल      50,894

कृष्णा कांटीनेंटल   43499

कृष्णा ड्रीमलैंड    37,220

सनसिटी        32,681

कुल: 35 लाख 92 हजार 522 रुपये

मुझे इस मामले में न तो कोई एसोसिएशन मिली है और न ही मुझे इस बात की कोई जानकारी ही है। फिर भी मैं मामले को लेकर पड़ताल करूंगी। -कंवलप्रीत कौर बराड़,डायरेक्टर,टूरिज्म विभाग पंजाब

यह भी पढ़ें-One Time Settlement policy: 30 नवंबर तक बकाया प्रापर्टी टैक्स जमा करवाया तो मिलेगी 10 फीसद छूट

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.