top menutop menutop menu

15 को लापरवाही से आजाद नहीं होगा जगराओं पुल

15 को लापरवाही से आजाद नहीं होगा जगराओं पुल
Publish Date:Wed, 05 Aug 2020 05:00 AM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, लुधियाना : शहरवासी आस लगाए बैठे थे कि स्वतंत्रता दिवस पर जगराओं पुल गिफ्ट के तौर पर मिल जाएगा। ऐसी उम्मीद लगाते भी क्यों नहीं, शहर के मंत्री, मेयर व अफसर बार बार कह रहे थे कि 15 अगस्त तक पुल ट्रैफिक के लिए खोल दिया जाएगा। लेकिन नगर निगम अफसरों की लापरवाही ने मंत्री, मेयर, डीसी व निगम कमिश्नर को शहरवासियों के सामने झूठा साबित करने में कोई कसर नहीं छोड़ी। चार दिन काम बंद रहा। इस बारे में अफसर तो छोड़ो मेयर व कमिश्नर को भी जानकारी नहीं दी गई। मंगलवार को मेयर बलकार सिंह संधू ने बीएंडआर के एसई राहुल गगनेजा को तलब किया और जगराओं पुल की रिटेनिग वाल पर जवाब तलबी की। इस पर उन्होंने कह दिया कि 15 अगस्त तक रिटेनिग वाल का काम पूरा नहीं हो सकता। इसके बाद मेयर ने उनकी जमकर क्लास लगाई।

दरअसल, पिछले सप्ताह कांट्रेक्टर ने चार दिन के लिए काम बंद कर दिया था और अफसरों को इसकी कानों कान खबर तक नहीं थी जबकि मेयर ने उन्हें रोजाना मॉनिटरिग के आदेश दिए थे। जब मामला कैबिनेट मंत्री के ध्यान में आया तो मेयर व कमिश्नर मौके पर पहुंचे और उन्होंने अफसरों से रिपोर्ट तलब की।

मेयर और एसई आमने-सामने

बीएंडआर ब्रांच के एसई राहुल गगनेजा ने कहा कि रिटेनिग वाल की शटरिग करने में दिक्कत आ रही है इसलिए 15 अगस्त तक काम पूरा करना संभव नहीं है। उस दिन तक रिटेनिग वाल सड़क के लेवल तक आ जाएगी। इस पर मेयर ने कहा कि अगर चार दिन काम बंद नहीं होता तो तय समय पर पुल खोला जा सकता था।

अब मेयर ने संभाली मॉनिटरिग

अफसरों की मानें तो सितंबर के पहले सप्ताह तक पुल शुरू हो सकेगा। मेयर बलकार सिंह संधू ने बताया कि अफसरों से जवाब तलबी की है। अब वह खुद रिटेनिग वाल के निर्माण कार्य की मॉनिटरिग कर रहा हैं। अफसरों को भी कह दिया कि कोई लापरवाही न बरती जाए। वह चाहते थे कि स्वतंत्रता दिवस पर यह पुल शहरवासियों के लिए खोला जाए।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.