बच्चों को रिसर्च में रुचि लेने का संदेश दे गया साइंस मेला

जासं, जगराओं : सनमति सरकारी साइंस एवं रिसर्च कॉलेज में साइंस मेले के दौरान इनोवेशन इन साइंस पर लेक्चर हुआ। इस दौरान महिदर सिंह जस्सल पूर्व डायरेक्टर साइंस कॉलेज और प्रोफेसर बलदेव सिंह डिप्टी डायरेक्टर पंजाब स्कूल एजुकेशन मुख्य मेहमान के तौर पर उपस्थित हुए।

मुख्य वक्ता डॉ. फलिक्स बास्ट असिस्टेंट प्रोफेसर सेंट्रल यूनिवर्सिटी ने अंटार्कटिका के सफर के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कुछ दुर्लभ जाति की काई से जुड़ी प्रजातियों की खोज की। उन्होंने विद्यार्थियों को रिसर्च से जुड़ी गतिविधियों में हिस्सा लेने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कॉलेज लाइब्रेरी को विज्ञान से संबंधित खास किताबें भेंट की। डॉ. बीआर बातिश ने खत्म हो रही जैविक प्रजातियां व उनके बचाव संबंधी जानकारी दी। उन्होंने विद्यार्थियों को बायोस्फेयर रिजर्व, वाइल्ड लाइफ सेंक्चुअरी व पुराने पेड़ों की संभाल के बारे में बताया।

इस मौके पर पोस्टर प्रेजेंटेशन, स्टिल एंड वर्किग मॉडल के इंटर स्कूल व कॉलेज कंपीटिशन हुए। इनमें लेख लिखने के मुकाबले में सनमति विमल जैन स्कूल जगराओं ने पहला, जीटीबी स्कूल दाखा ने दूसरा और न्यू पंजाब मॉडल स्कूल जगराओं ने तीसरा स्थान हासिल किया। पोस्टर प्रेजेंटेशन में साइंस कॉलेज की जसकिरण ने पहला स्थान व मुस्कान बांसल ने दूसरा व जीसीजी लुधियाना की मनरूप कौर ने तीसरा स्थान हासिल किया। स्कूली स्तर मुकाबलों में अहम सिंह ने पहला स्थान, दिव्यांशु शर्मा ने दूसरा स्थान, जीटीबी स्कूल दाखा की अनमोलप्रीत ने तीसरा स्थान हासिल किया। स्टिल मॉडल में सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल जगराओं ने पहला, जीटीबी नेशनल पब्लिक सीनियर सेकेंडरी स्कूल दाखा ने दूसरा व एचके एस मॉडल सीनियर सेकेंडरी स्कूल समालसर ने तीसरा स्थान हासिल किया।

वर्किग मॉडल में सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल सिधवां कलां ने पहला, जीटीबी नेशनल पब्लिक सीनियर सेकेंडरी स्कूल दाखा ने दूसरा व सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल जगराओं ने तीसरा स्थान हासिल किया। वर्किग मॉडल में साइंस कॉलेज जगराओं पहला स्थान हासिल किया। विजेताओं को दिए सर्टिफिकेट और नकद राशि

विजेता विद्यार्थियों को सर्टिफिकेट व नकद राशि देकर उनको प्रोत्साहित किया गया। इस मौके पर प्रो निर्मल सिंह, प्रो. मनजिदर सिंह, प्रो. बलदेव सिंह सिद्धू, प्रो. निधि महाजन, प्रो. सरबदीप कौर सिद्धू, डॉ. कर्मदीप कौर व वीरपाल कौर सहित अन्य सदस्य मौजूद थे।

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.