पंजाब के CM चन्नी का गुरूहरसहाय में ईटीटी टेट पास उम्मीदवारों ने किया विराेध, पुलिस से धक्कामुक्की, 2 कार्यक्रम बीच में छोड़े

पंजाब के पूर्व खेल मंत्री राणा गुरमीत सिंह सोढ़ी के निवास पर रखे गए कार्यक्रम के दौरान जब मुख्यमंत्री ने अपना संबोधन शुरू किया तो बेरोजगार ईटीटी टेट पास उम्मीदवारों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी।

Vipin KumarPublish:Thu, 25 Nov 2021 03:09 PM (IST) Updated:Thu, 25 Nov 2021 03:09 PM (IST)
पंजाब के CM चन्नी का गुरूहरसहाय में ईटीटी टेट पास उम्मीदवारों ने किया विराेध, पुलिस से धक्कामुक्की, 2 कार्यक्रम बीच में छोड़े
पंजाब के CM चन्नी का गुरूहरसहाय में ईटीटी टेट पास उम्मीदवारों ने किया विराेध, पुलिस से धक्कामुक्की, 2 कार्यक्रम बीच में छोड़े

जागरण संवाददाता. गुरूहरसहाय (फिरोजपुर)। गुरूहरसहाय मेम उद्घाटन समारोह में पहुंचे पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी का वीरवार काे बेरोजगार ईटीटी टेट पास उम्मीदवारों, आंगनवाड़ी और आशा वर्करों ने जबरदस्त विरोध किया। पूर्व खेल मंत्री राणा गुरमीत सिंह सोढ़ी के गुरु हरसहाय निवास पर रखे कार्यक्रम में जब चन्नी ने संबोधन शुरू किया तो प्रदर्शनकारियों ने पंजाब सरकार के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। घर के बाहर काली झंडा लेकर विरोध जता रहे प्रदर्शनकारियों के साथ पुलिस की धक्कामुक्की भी हुई। मुख्यमंत्री से मीटिंग का समय नहीं मिलने पर प्रदर्शनकारियों ने गोलूका मोड़ के रास्ते पर जाम लगा दिया।

मुख्यमंत्री चन्नी वीरवार सुबह 11 बजे गुरूहरसहाय पहुंचे। मुख्यमंत्री फरीदकोट सादिक दीप सिंह वाला मार्ग और रेलवे स्काईवॉक ब्रिज का उद्घाटन करने पहुंचे थे। पूर्व खेल मंत्री राणा गुरमीत सिंह सोढ़ी के निवास पर रखे गए कार्यक्रम के दौरान जब मुख्यमंत्री ने अपना संबोधन शुरू किया तो बेरोजगार ईटीटी टेट पास उम्मीदवारों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। प्रदर्शनकारियों को पंडाल के बाहर खदेड़ने के लिए पुलिस के साथ मिल कुछ कांग्रेसियों ने धक्का-मुक्की की और प्रदर्शनकारियों को घर के बाहर निकाल दिया। पंडाल के अंदर धक्का-मुक्की होने से नाराज प्रदर्शनकारियों ने राणा गुरमीत सिंह सोढ़ी के निवास के बाहर धरना दे दिया।

घर के बाहर धरना दे रहे प्रदर्शनकारियों को पुलिस बल ने एक जगह तक सीमित कर दिया जिसके बाद मुख्यमंत्री उद्घाटन कार्यक्रम में जा सके। उनके वापस लौटने तक प्रदर्शनकारी सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते रहे। इसी विरोध के बीच मुख्यमंत्री की गाड़ियों का काफिला वापस राणा गुरमीत सिंह सोढ़ी के घर पहुंचा जहां से वे अपने हेलीकॉप्टर में सवार होकर वापस लौट गए। मुख्यमंत्री से बात न होने से नाराज बेरोजगार ईटीटी टेट पास उम्मीदवारों ने रोड जाम कर दिया। दोपहर करीब 12:30 बजे शुरू हुआ उनका प्रदर्शन खबर लिखे जाने तक जारी रहा। बेरोजगार प्रदर्शनकारियों ने सड़क पर मुख्यमंत्री चन्नी के स्वागत के लिए लगी फ्लेक्स फाड़ दी।