Omicron Variant: लुधियाना में किशाेर सहित 2 काेराेना पाजिटिव, ओमिक्राेन काे लेकर सेहत विभाग अलर्ट

Covid-19 Omicron Variant सिविल सर्जन डा. एसपी सिंह की ओर से जिले के सभी एसएमओ को निर्देश जारी किए गए कि वह अपने यहां कोरोना सैंपलिंग और कोरोना वैक्सीनेशन को बढ़ावा दें। उन्हें कहा गया है कि जिन लोगों की दूसरी डोज पेंडिंग है उन्हें मोटीवेट किया जाए।

Vipin KumarPublish:Wed, 01 Dec 2021 10:07 AM (IST) Updated:Wed, 01 Dec 2021 10:24 AM (IST)
Omicron Variant: लुधियाना में किशाेर सहित 2 काेराेना पाजिटिव, ओमिक्राेन काे लेकर सेहत विभाग अलर्ट
Omicron Variant: लुधियाना में किशाेर सहित 2 काेराेना पाजिटिव, ओमिक्राेन काे लेकर सेहत विभाग अलर्ट

जागरण संवाददाता, लुधियाना। Covid-19 Omicron Variant: जिले में मंगलवार को काेरोना के दो नए मरीज मिले। इनमें से एक 13 साल का किशाेर भी रहा। हालांकि वह स्कूल नहीं जा रहा था। सेहत विभाग की ओर से कांटैक्ट ट्रेसिंग की जा रही है। जिले में अब कोरोना के मामले 87664 तक पहुंच गए हैं, जबकि अब तक 2110 संक्रमितों की मौत हो चुकी है। ओमिक्राेन काे लेकर सेहत विभाग अलर्ट हाे गया है। 

दूसरी तरफ सिविल सर्जन डा. एसपी सिंह की ओर से सभी एसएमओ को निर्देश जारी किए गए कि वह अपने यहां कोरोना सैंपलिंग और कोरोना वैक्सीनेशन को बढ़ावा दें। उन्हें कहा गया है कि जिन लोगों की दूसरी डोज पेंडिंग है, उन्हें मोटीवेट किया जाए और जल्द से जल्द सभी लोगों को दूसरी डोज के तहत कवर किया जाए।

वहीं दूसरी तरफ डेंगू का डंक अभी भी जारी है। जिले में डेंगू के छह नए मरीजों की पुष्टि हुई, जिसमें से दो मरीज अर्बन और 4 मरीज रूरल के रहने वाले थे। जिले में डेंगू मरीजों का आंकड़ा अब 1795 तक पहुंच गया है। जिसमें से अकेले लुधियाना सिटी से ही 1323 मरीजों की पुष्टि हो चुकी है।

यह भी पढ़ें-Weather Forecast Ludhiana: लुधियाना में तेज हवाएं चलने से बढ़ी ठिठुरन, शाम काे बारिश के आसार; खराब श्रेणी में पहुंचा एक्यूआइ

वायरस से बचाव का पहला हथियार है मास्क

मोहनदेई ओसवाल अस्पताल के चेस्ट स्पेशलिस्ट डा. प्रदीप कपूर का कहना है कि कोरोना के नए वैरिएंट सामने आने के बाद सभी को सतर्क हो जाना चाहिए। मास्क पहनना सभी के लिए अनिवार्य है। हमारे आसपास कोई भी व्यक्ति कोरोना पाजिटिव हो सकता है। अगर वह खांसी करता है, छींकता है, बातचीत करता है तो वायरस हवा के जरिये हमारे अंदर चला जाएगा। कोरोना कितना खतरनाक है इसका असर लोग दूसरी लहर में देख चुके हैं।

यह भी पढ़ें-Punjab : कालेजों में अब स्टाफ की कमी नहीं आएगी आड़े, यूजीसी ने यूनिवर्सिटीज व कालेजों से खाली सीटों के ब्यौरा मांगा