नेशनल फुटबॉल खिलाड़ी को गोली मारने का मामला, कांग्रेसी नेता समेत 20 के खिलाफ केस दर्ज Ludhiana News

लुधियाना, जेएनएन। मुल्लांपुर दाखा उपचुनाव के मतदान के दौरान जाली वोटों को लेकर हुई झड़प में फुटबॉल के नेशनल खिलाड़ी गोपी को गोली लगने के मामले में पुलिस ने कांग्रेस के सीनियर नेता दलजीत सिंह भोला समेत 20 लोगों पर हत्या के प्रयास का केस दर्ज किया है। ज्ञात हो कि सोमवार की शाम गांव जांगपुर इलाके में जाली वोट डालने के आरोप को लेकर कांग्रेसी और शिअद वर्करों में विवाद हो गया था। इसमें कांग्रेसियों द्वारा गोलियां चलाने से फुटबॉल के नेशनल खिलाड़ी गुरप्रीत गोपी को गोली लग गई थी। इसके बाद थाना दाखा पुलिस ने केस दर्ज किया है।

इस मामले में पुलिस ने घायल फुटबॉल खिलाड़ी गोपी के दोस्त शमशेर सिंह की शिकायत पर टिब्बा रोड निवासी कांग्रेसी सीनियर नेता दलजीत सिंह उर्फ भोला, उसके भाई कुलविंदर सिंह गरेवाल, जांगपुर निवासी कांग्रेसी सरपंच अमरजीत सिंह, दलजीत सिंह उर्फ हैप्पी, जगतार सिंह उर्फ जग्गी, सिमरणजीत सिंह उर्फ सिम्मी, अश्वनी कुमार, कर्ण सपरा समेत अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया। जांगपुर में कांग्रेसियों के हमले के दौरान शिकायतकर्ता शमशेर सिंह भी बुरी तरह से घायल हो गया था। पुलिस ने आरोपितों की तलाश में छापेमारी करनी शुरु कर दी है।

गौरतलब है कि गांव जांगपुर में सोमवार की शाम करीब पांच बजे कांग्रेसी नेता दलजीत सिंह भोला अपने साथियों के साथ बूथ पर पहुंच गए। घायल शमशेर ने बताया कि पहले तो सभी कांग्रेसियों ने मिलकर जाली वोटें डालने की कोशिश की और उसके बाद बूथ ही कैप्चर करने की भी कोशिश करने लग पड़े। जब उन्होंने रोकने की कोशिश की तो कांग्रेसियों ने उन पर हमला कर दिया। इस दौरान जमकर पथराव हुआ और दलजीत सिंह भोला समेत कांग्रेसियों ने गोलियां चलानी शुरु कर दीं। जिससे गोली फुटबॉल के नेशनल खिलाड़ी गुरप्रीत गोपी को लगी। हमला करने के बाद कांग्रेसी मौके से चले गए। घायल गोपी को इलाज के लिए डीएमसी अस्पताल पहुंचाया। सूचना मिलते ही दाखा डीएसपी गुरबंस सिंह बैंस भी मौके पर पहुंचे।

उम्मीदवारों ने समर्थकों के साथ बैठ कर की चुनावी समीक्षा

दाखा उपचुनाव में मतदान खत्म होने के बाद सभी राजनीतिक पार्टियों के उम्मीदवारों ने अपने-अपने समर्थकों के साथ बैठ कर चुनावी समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने वोटों को लेकर समीकरण भी बनाए और जीत-हार का आकलन भी किया। कुछ उम्मीदवारों ने मंगलवार दोपहर तक घर में रह कर आराम किया और परिवार के साथ समय बिताया। कुछ उम्मीदवारों ने इलाके के लोगों के साथ भी मुलाकात की और उनसे उपचुनाव को लेकर फीडबैक लिया ताकि उपचुनाव को लेकर समीक्षा करने में आसानी मिल सके।

कभी लिप, कभी आप तो कभी अकाली दल में भी रहे हैं भोला

गांव जांगपुर फुटबाल के नेशनल खिलाड़ी पर गोली चलाने के आरोपित दलजीत सिंह भोला पिछले लोकसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी की जिला प्रधानगी छोड़ कांग्रेस में शामिल हुए थे। इससे पहले वह लोक इंसाफ पार्टी के संयोजक एवं विधायक सिमरजीत सिंह बैंस के सबसे खासमखास थे। भोला ने बैंस के साथ मिलकर रेत माफिया के खिलाफ अभियान चलाया था। इस मामले में भी भोला के खिलाफ के पुलिस ने मामला दर्ज किया था। दलजीत सिंह भोला कुछ समय के लिए सिमरजीत सिंह बैंस के साथ मिलकर अकाली दल में भी शामिल हुए थे। भोला को मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस में शामिल किया था।

घायल गोपी का हाल जानने पहुंचे कांग्रेसी

गांव जांगपुर इलाके में गोली कांड के दौरान घायल हुए गुरप्रीत गोपी का हाल जानने के लिए कैबिनेट मंत्री भारत भूषण आशु, कांग्रेसी उम्मीदवार संदीप संधू, विधायक संजय तलवाड़ समेत कई अन्य सीनियर कांग्रेसी नेता डीएमसी अस्पताल पहुंचे। इस दौरान कांग्रेसी नेताओं ने घायल गोपी का हाल पूछा और पूरे मामले की जानकारी भी ली। इस दौरान मंत्री आशु ने कहा कि कांग्रेस घायल गोपी के साथ खड़ी है। वहीं, डीएमसी अस्पताल के डॉक्टरों के मुताबिक गोपी की हालत स्थिर है। कुछ ही दिनों में उसे छुट्टी मिल जाएगी।

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.