सांसद बिंट्टू की टिप्पणी पर भड़की बसपा, मिनी सचिवालय के समक्ष जताया रोष

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने मिनी सचिवालय के समक्ष जबरदस्त रोष प्रदर्शन जिला प्रधान जीत राम बसरा की अध्यक्षता में किया। पार्टी कार्यकर्ताओं ने सांसद रवनीत सिंह बिट्टू के खिलाफ जमकर भड़ास निकाली और पुतला भी फूंका।

JagranWed, 16 Jun 2021 01:56 AM (IST)
सांसद बिंट्टू की टिप्पणी पर भड़की बसपा, मिनी सचिवालय के समक्ष जताया रोष

जागरण संवाददाता, लुधियाना : बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने मिनी सचिवालय के समक्ष जबरदस्त रोष प्रदर्शन जिला प्रधान जीत राम बसरा की अध्यक्षता में किया। पार्टी कार्यकर्ताओं ने सांसद रवनीत सिंह बिट्टू के खिलाफ जमकर भड़ास निकाली और पुतला भी फूंका। बसपा कार्यकर्ताओं ने बिट्टू पर इंटरनेट मीडिया पर अनुसूचित जाति एवं जनजाति के लोगों के खिलाफ अभद्र टिप्पणी करने, 300 करोड़ के चुनावी फंड की बेबुनियाद कहानी गढ़ने, बसपा एवं पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती को बदनाम करने, उनकी छवि खराब करने एवं पंजाब के शांतिपूर्ण माहौल को बिगाड़ने का आरोप लगाया। इस संबंध में पार्टी ने पुलिस कमिश्नर को शिकायत कर बिट्टू के खिलाफ एससीएसटी एक्ट में मामला दर्ज करने और उन्हें पागलखाने भेजने तक की मांग की। साथ ही कार्यकर्ताओं ने चेतावनी भी दी है कि यदि बिट्टू के खिलाफ कार्रवाई में देरी की गई तो बसपा कार्यकर्ता सड़कों पर उतरेंगे। इस अवसर पर गुरमेल सिंह, रूपिदर सिंह, जसपाल भौरा, बलविदर जस्सी, विक्की कुमार, नरेश बसरा, मनजीत सिंह, इंद्रेश कुमार समेत कई सदस्य मौजूद रहे।

अकाली-बसपा गठबंधन पर बिट्टू के बयान से गर्माई राजनीति

पंजाब में 25 साल बाद अकाली-बसपा गठबंधन होने के साथ ही सांसद बिट्टू ने राजनीति को गर्मा दिया है। सूबे की कुछ विधानसभा सीटों को पवित्र बताने का बयान अब बिट्टू के गले की फांस बन रहा है, हालांकि बिट्टू ने इस बयान पर सफाई भी दी है, लेकिन बसपा के तेवर तल्ख हैं। बसपा कार्यकर्ता गुस्से में हैं और बिट्टू के खिलाफ कार्रवाई चाहते हैं। उधर, पार्टी भी इस मुद्दे को हाथ से नहीं जाना चाहती, नतीजतन अब पंजाब की राजनीति में अब हाथी भी तेजी से सक्रिय हो रहा है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.