Punjab Assembly Election 2022: लुधियाना के मंदिर में भाजपा अध्यक्ष अश्वनी शर्मा नतमस्तक, पदाधिकारियों के साथ करेंगे बैठक

Punjab Assembly Election 2022 भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रधान अश्वनी शर्मा सोमवार को प्राचीन शिव मंदिर संगला वाला शिवाला में माथा टेका और भगवान शिव के चरणों में नतमस्तक हुए और आशीर्वाद लिया। वहां पर उनके साथ भाजपा की जिला कार्यकारिणी के कई नेता शामिल रहे।

Vipin KumarPublish:Mon, 29 Nov 2021 11:59 AM (IST) Updated:Mon, 29 Nov 2021 11:59 AM (IST)
Punjab Assembly Election 2022: लुधियाना के मंदिर में भाजपा अध्यक्ष अश्वनी शर्मा नतमस्तक, पदाधिकारियों के साथ करेंगे बैठक
Punjab Assembly Election 2022: लुधियाना के मंदिर में भाजपा अध्यक्ष अश्वनी शर्मा नतमस्तक, पदाधिकारियों के साथ करेंगे बैठक

जागरण संवाददाता, लुधियाना। Punjab Assembly Election 2022: भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रधान अश्वनी शर्मा सोमवार को प्राचीन शिव मंदिर संगला वाला शिवाला में माथा टेका और भगवान शिव के चरणों में नतमस्तक हुए और आशीर्वाद लिया। इस दाैरान उनके साथ भाजपा की जिला कार्यकारिणी के कई नेता शामिल रहे। जिनमें पार्टी के जिला प्रधान पुष्पेंद्र सिंगल, जीवन गुप्ता, गुरदेव शर्मा देबी, नीरज वर्मा, हर्ष शर्मा इत्यादि प्रमुख रहे। मंदिर के मुख्य पुजारी महंत नारायण दास पुरी ने प्रदेश प्रधान को प्राचीन मंदिर के महत्व के बारे में विस्तार से जानकारी दी।

इसके अलावा मंदिर कमेटी की ओर से भाजपा प्रधान समेत तमाम नेताओं को सम्मानित भी किया गया। पंजाब में ज्यों-ज्यों विधानसभा चुनाव नजदीक आ रहे हैं। विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं की गतिविधियां जोर पकड़ रही हैं। नेता इन दिनों मंदिर, गुरुद्वारा समेत धार्मिक स्थलों पर पहुंच रहे हैं। यह सिलसिला अभी भी जारी है। सोमवार को भाजपा प्रदेश प्रधान अश्वनी शर्मा ने मंदिर में शीश झुकाकर अपनी राजनीतिक दिनचर्या शुरू की।

यह भी पढ़ें-Punjab Police Recruitment: कांस्टेबल भर्ती की मेरिट में धांधली के आराेप, अभ्यर्थियों ने मोगा सब जेल के बाहर हाईवे किया जाम

राजनीतिक सक्रियता बढ़ाकर अपनी जमीनी पकड़ मजबूत कर रही भाजपा

शर्मा सोमवार को लुधियाना के चार विधानसभा हलकों पूर्वी, पश्चिम, उत्तर एवं दक्षिण में भाजपा कार्यकर्ताओं एवं पदाधिकारियों के साथ बैठकें कर रहे हैं। इस दौरान पंजाब में आगामी विधानसभा चुनावों को लेकर पार्टी की रणनीति के बारे में अवगत करा रहे हैं। जमीनी स्तर पर पार्टी की स्थिति को लेकर पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं से फीडबैक लिया जा रहा है। इसके अलावा प्रदेश प्रधान कार्यकर्ताओं को भाजपा की नीतियों से अवगत करा रहे हैं। पंजाब में भाजपा राजनीतिक सक्रियता बढ़ाकर अपनी जमीनी पकड़ मजबूत करने में जुटी हुई है। इस बार पार्टी ने 117 सीटाें पर चुनाव लड़ने का एलान किया है।

यह भी पढ़ें-लुधियाना में तलाकशुदा महिला ने हवलदार की बेटी को अगवा कर जिंदा प्लाट में दबाया, अस्पताल में मौत