किसान यूनियनों ने कृषि कानून की प्रतियां फूंकी

किसान यूनियनों ने कृषि कानून की प्रतियां फूंकी

गांव भमाल सिधवांबेट सलेमपुर रसूलपुर जंडी सहित अन्य गांवों के किसानों ने कृषि कानून की प्रतियां फूंकी

Publish Date:Sat, 16 Jan 2021 06:12 AM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, जगराओं

गांव भमाल, सिधवांबेट, सलेमपुर, तलवाड़ा, सफीपुर, रसूलपुर, जंडी, जनेतपुरा, बंसीपुरा, सदरपुरा, राओवाल में किसानों ने संयुक्त मोर्चे के निमंत्रण पर किसानों मजदूरों ने इकट्ठे होकर सांझी लोहड़ी जलाकर कृषि सुधार कानून की प्रतियां फूंकी। इस मौके पर महिलाओं व बच्चों ने भी भाग लिया। इस मौके पर किसान नेता रामशरण सिंह रसूलपुर, निर्मल सिंह, गुरमेल सिंह, पिटा ग्रेवाल, मोहन सिंह, बंगसीपुरा, करनैल सिंह सरपंच, बचितर सिंह, सुखविदर सिंह ने कहा कि 18 जनवरी को रेलवे पार्क जगराओं में सांझे मोर्चे के निमंत्रण पर विशाल महिला किसान दिवस मनाया जाएगा।

उन्होंने 26 जनवरी को दिल्ली में किसान ट्रेक्टर परेड में बढ़ चढ़ कर शामिल होने का निमंत्रण दिया। इस मौके पर लीला, गालिब रणसिंह, गालिब खुर्द, रामगढ़, मलसीहां, सवदी खुर्द, कलेरां गांवों में भी कापियां जलाई गई। कृषि कानून वापस होने तक जारी रहेगा प्रदर्शन : अवतार सिंह

किसान-मजदूर संगठनों ने लोहड़ी के लिए जलाए भुग्गे में कृषि सुधार कानूनों की प्रतियां जला कर रोष प्रदर्शन किया । इस मौके पर जत्थेबंदी के जिला प्रधान अवतार सिंह, सुखदेव सिंह व बख्तौर सिंह ने कहा कि सरकार को कारपोरेट घरानों की फिक्र है, लेकिन किसानों की नहीं। उन्होंने कहा कि कृषि कानून वापस होने गांव के मजदूर, किसान संघर्ष का साथ देंगे। इस मौके पर अवतार सिंह रसूलपुर, धीरा सिंह, बिकर सिंह, जगसीर सिंह, वीरपाल कौर, अमरजीत कौर, मनजीत कौर, सुरजीत कौर आदि मौजूद रहीं।

गांव भूंदड़ी में भी किसानों ने जलाई प्रतियां

इसी तरह गांव भूंदड़ी में भी कृषि सुधार कानून की प्रतियां जलाते हुए सुखदेव सिंह, गुरमेल सिंह भरोवाल, जसवीर, गुरप्रीत, मोती राम, भूपिदर, मेवा आदि किसानों ने केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.