दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

एडीजीपी जायजा लेने खुद पहुंचे लुधियाना सेंट्रल जेल, बैरक में शराब और हुक्का पीने का वीडियो हुआ था वायरल

एडीजीपी जेल परवीन कुमार सिन्हा सोमवार लुधियाना सेंट्रल जेल पहुंचे। जागरण

बैरक में खुलेआम जाम छलकाने और हुक्का पीते वायरल हुए हवालातियों के वीडियो की जेल प्रबंधन की खासी किरकिरी कर दी है। इसे लेकर चल रही जांच का जायजा लेने के लिए एडीजीपी जेल परवीन कुमार सिन्हा सोमवार लुधियाना सेंट्रल जेल पहुंचे।

Pankaj DwivediMon, 17 May 2021 02:50 PM (IST)

लुधियाना, जेएनएन। सेंट्रल जेल की बैरक में खुलेआम जाम छलकाने और हुक्का पीते वायरल हुए हवालातियों के वीडियो की जेल प्रबंधन की खासी किरकिरी कर दी है। इसे लेकर चल रही जांच का जायजा लेने के लिए एडीजीपी जेल परवीन कुमार सिन्हा सोमवार लुधियाना सेंट्रल जेल पहुंचे। हालांकि अधिकारिक तौर पर किसी ने इस बात की पुष्टि नहीं की है कि वो यहां हुक्का प्रकरण की जांच के लिए आए थे। दौरे के दौरान उनके साथ डीआईजी जेल सुरिंदर सिंह सैणी भी थे।

सूत्रों के अनुसार एडीजीपी ने सेंट्रल जेल की उस बैरक का जायजा लिया, जहां उस वीडियो को बनाया गया था। जेल सुपरिंटेंडेंट बलकार सिंह भुल्लर से उन हवालातियों के नाम पता किए जो उस वीडियो में नजर आ रहे हैं। करीब एक घंटा जेल में रुकने के बाद दोपहर 12 बजे वो वापस चले गए। बता दें कि एक सप्ताह पहले सेंट्रल जेल से एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें बैठे हवालाती न सिर्फ शराब के जाम छलकाते नजर आ रहे थे बल्कि हुक्के के कश खींचते हुए भी दिख रहे थे। सकते में आए जेल प्रबंधन ने बाद में वह वीडियो डिलीट करा दिया था। हालांकि तब तक वो वीडियो कई जगह पहुंच चुका था। किरकिरी से बचने के लिए जेल प्रबंधन ने आरोपितों पर केस तो दर्ज कराया था, मगर उसमें कहीं हुक्के का जिक्र नहीं किया गया।  

 

यह भी पढ़ें - Black Fungus In Punjab: क्या Coronavirus की तरह एक व्यक्ति से दूसरे को फैलता है Black Fungus? जानिए

एडीजीपी ने सहित सभी अधिकारियों ने मीडिया से बनाई दूरी

दौरे के दौरान एडीजीपी से लेकर निचले स्तर के सभी अधिकारियों ने मीडिया से दूरी बना कर रखी। उनकी किसी बात का जवाब नहीं दिया। यहां तक कि कवरेज करने के लिए गई मीडिया टीम को जेल परिसर से बाहर ही खड़े होने को कहा गया। जिस किसी अधिकारी से सवाल किया गया, वो जवाब देने से कतराता रहा। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.