कृषि विधेयकों के खिलाफ 20 गांवों ने दिया धरना

कृषि विधेयकों के खिलाफ 20 गांवों ने दिया धरना
Publish Date:Mon, 28 Sep 2020 04:45 AM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, जगराओं : केंद्र सरकार के कृषि विधेयकों के खिलाफ जगराओं तहसील के रिलांयस पेट्रोल पंप पर करीब 20 गांवों के किसानों, जमींदारों व नौजवानों ने रविवार को प्रदर्शन किया। इन गांवों में चौंकीमान, गुड़े, कुलार, जस्सोवाल, पबियां, शेखुपुरा, सोइयां, सिधवां कलां, सवदी, तलवंडी कलां, तलवंडी खुर्द, सिधवां खुर्द के नौजवानों, किसानों, व जमींदारों ने भाग लिया। आयोजक अमोलक सिंह मान की अगुवाई में पहले सुबह 10 बजे से दोपहर तीन बजे तक निजी कंपनी का पेट्रौल पंप को बंद करवाया। फिर केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। प्रधान अमोलक सिंह मान, हरबंस सिंह खालस व तेजिदर सिंह व हरजात सिंह ने केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए कहा कि अब गांवों के लोग चुप रहने वाले नहीं हैं वे अपने अधिकारों के लिए केंद्र और अंबानी के खिलाफ मोर्चा तेज करेंगे। इस मौके पर अमोलक सिंह मान ने बताया कि आने वाले दिनों में जगराओ में खुलने वाले रिलांयस सुपर मार्केट की ओपनिग के समय भी वो अपना संघर्ष तेज करेंगे। इस मौके पर हरबंस सिंह खालसा, हरजाप सिंह चौकीमान, तेजिदर सिंह भोला, जसकरण सिंह, जगमेल सिंह मान, अमनदीप समरा, गुरविदर सिंह मग्गू, सोसायटी जगजीत सिंह तलवंड़ी, पवन सिंह, जगविदर सिंह, सुखदीप सिंह, परमिदर सिंह, दविदर सिंह, इंद्रजीत सिंह, जगवीर सिंह मनी, सोनू, कुलविदर सिंह, जश्न मान, ज्योति बराड़, बिट्टू, बिट्टू मास्टर, जसपाल मान, पूर्व सरपंच चरण सिंह गुड़े, बलराज सिंह गुड़े, जग्गा गुड़े, सनदीप सिंह सहित अन्य नौजवान व किसान मौजूद थे।

--------------

'ग्राम सभा बुलाओ, पिड बचाओ, वार्ड सभा बुलाओ, नगर बचाओ' मुहिम शुरू

कृषि विधेयकों से पंजाब के किसानों को खत्म किया जा रहा है। इन तीन कृषि विधेयकों से पंजाब के किसानों के खुदकुशी करने के मामले और बढ़ जाएंगे। पंजाब की किसानी पूंजीपतियों के हाथों की कठपुतली बन कर रह जाएगी। यह कहना है पंजाब विधानसभा की उपनेता व जगराओं की विधायक सरबजीत कौर मानूके का। उन्होंने ग्राम सभा बुलाओ, पिड बचाओ, वार्ड सभा बुलाओ, नगर बचाओ की मुहिम की शुरुआत करवाई। मानूके ने वार्ड 18 से इसकी शुरुआत की। इस वार्ड सभा में हस्ताक्षर करने की मुहिम शुरू की गई। ग्राम व वार्ड सभा एक इकाई है जिसके द्वारा राष्ट्रपति को अपील की जा सकती है। विधायक ने कहा कि मोदी सरकार ने जो विधेयक लाएं हैं वो किसान विरोधी हैं। आम आदमी पार्टी ने किसानों को इंसाफ दिलाने के लिए यह मुहिम शुरू की है। इस मुहिम के जरिए ग्राम सभा बुलाओ, पिड बचाओ, वार्ड सभा बुलाओ नगर बचाओ की मुहिम के तहत जो प्रस्ताव पास होंगे वो राष्ट्रपति तक पहुंचाएं जाएंगे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.