विध्वंसक ताकतों पर विजय हासिल करना ही शहीदों को सच्ची श्रद्धांजलि

संवाद सहयोगी, करतारपुर : 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आत्मघाती हमले में शहीद हुए सीआरपीएफ जवानों के लिए सीआरपीएफ कैंप लिद्दड़ां में 114 बटालियन की ओर से कमांडेंट आरके ¨सह की अगुवाई में श्रद्धांजलि समारोह का आयोजन किया गया।

इस मौके पर श्री महिपाल यादव (आइजीपी जालंधर बीएसएफ), एसएसपी जालंधर देहाती नवजोत ¨सह माहल, कमांडेंट अंचल शर्मा आइटीबीपी, डायरेक्टर एनआइटी एलके अवस्थी, राज ¨सह कटारिया डीआइजी बीएसएफ, विकास ¨सह डीआइजी मेडिकल, अतुल गौतम डीआइजी, बल¨वदर ¨सह एसपी विशेष रूप से पहुंचे व शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की। 114 बटालियन आरएएफ की सेरेमोनियल गार्ड द्वारा शहीदों को गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया तथा दो मिनट का मौन रखा गया।

इस दौरान बीएसएफ के आइजीपी महिपाल यादव ने कहा कि देश के नाम पर शहादत देने वाले सभी वीरों को शत-शत नमन है। उन्होंने कहा कि सीआरपीएफ में अपने प्राणों से बढ़कर देश की प्रतिष्ठा का ध्यान रखा जाता है। देश के प्रति बलिदान इस बल को विरासत में ही मिलते हैं। हम सभी विध्वंसक ताकतों (जो मानवीय जीवन व उसके मूल्यों के लिए खतरा हैं) का डट कर मुकाबला करेंगे और विजय हासिल करेंगे। यही हमारी शहीद जवानों को सच्ची श्रद्धांजलि है। इस मौके पर सेंट सोल्जर के मनमोहन अरोड़ा, राजेश कुमार ¨सह कमांडेंट 114 बटालियन के अलावा एनआईटी एवं सेंट सोल्जर के विद्यार्थी मौजूद थे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.