आरसीएफ ने किया शौचालय से लैस मेमू ट्रेन का निर्माण

आरसीएफ ने शौचालय से लैस मेमू ट्रेन के 12 डिब्बों का प्रथम रैक रवाना किया।

JagranSat, 27 Nov 2021 07:50 PM (IST)
आरसीएफ ने किया शौचालय से लैस मेमू ट्रेन का निर्माण

हरनेक सिंह जैनपुरी, कपूरथला डीजल से चलने वाले डीएमयू की जगह बेशक बिजली से चलने वाले देश में मेमू ट्रेन को दौड़ते हुए कई साल हो गए है लेकिन इनमें शौचालय की सुविधा ना होने की वजह से महिला व बुजुर्ग यात्रियों को परेशानी झेलनी पड़ती थी। आरसीएफ ने यात्रियों की इस समस्या का समाधान निकालते हुए बायो टैंक वाली शौचालय की सुविधा से लैंस देश का पहला स्टेनलेस स्टील वाला 12 डिब्बों का एक मेमू तैयार किया है। रेल कोच फैक्ट्री कपूरथला की ओर से स्टेनलैस स्टील से निर्मित मेन लाइन इलेक्ट्रिकल मल्टीपल यूनिट्स डिब्बों वाले मेमू का प्रथम रेक आसनसोल मेमू शेड, पूर्वी रेलवे के लिए रवाना किया। आरसीएफ के महाप्रबंधक अशेष अग्रवाल की उपस्थिति में इन 12 डिब्बों वाले रेक को शनिवार को रवाना किया गया। इन कोचों को परफारमेंस ट्रायल के बाद सेवा में लगाया जाएगा। कोचों में बिजली उपकर्म मेसर्स भेल की ओर से प्रदान किए गए हैं।

ट्रेलर कोच में बायो टैंक के साथ दो शौचालय

इस संबंध में रेल कोच फैक्ट्री के जन संपर्क अधिकारी जितेश कुमार का कहना है कि थ्री फेस मेमू के कोचों में पारंपरिक मेमू कोचों की तुलना में स्टैंडर्ड स्टील बाडी लगाई गई है । इन डिब्बों की गति बढ़ाने की क्षमता भी पारंपरिक मेमू कोचों से कहीं अधिक है । सटीक ट्रेन नियंत्रण प्रदान करने के लिए इथरनेट आधारित ट्रेन नियंत्रण और प्रबंधन प्रणाली कोचों में लगाई गई है। ट्रेन नेटवर्क में किसी भी विफलता के मामले में ट्रेन की गति को 60 किलोमीटर प्रति घंटा तक सीमित करने के लिए रेस्क्यू ड्राइव मोड सुविधा भी दी गई है। ड्राइवर मोटर कोच में एयरो डायनामिक नोज फ्रंट के साथ वातानुकूलित ड्राइवर कैब और एर्गोनामिक रूप से डिजाइन किया गया ड्राइवर डेस्क है। पारंपरिक मेमू कोचों की तुलना में कम रखरखाव इन कोचों की खास विशेषता है। सुरक्षित यात्रा के लिए नेटवर्किंग सुविधाओं के साथ सीसीटीवी निगरानी प्रणाली को भी शामिल किया गया है। प्रत्येक ट्रेलर कोच में बायो टैंक के साथ दो शौचालय भी उपलब्ध कराए गए हैं।

पारंपरिक मेमो कोचों की तुलना में अधिक यात्री वहन क्षमता

इन मेमू कोचों में पारंपरिक मेमू कोचों की तुलना में अधिक यात्री वहन क्षमता है। प्रत्येक ड्राइविग मोटर कोच 226 यात्रियों को ले जा सकता है जबकि ट्रेलर कोच 325 यात्रियों को ले जा सकता है जिससे यात्री वहन क्षमता लगभग 30 फीसद बढ़ गयी है। थ्री फेज मेमू के डिब्बे न केवल तकनीकी प्रतिभा में उत्कृष्ट हैं बल्कि उत्कृष्ट यात्री सुविधाएं भी प्रदान करते हैं। प्रत्येक कोच में एफआरपी पैनलिग, कुशन वाली सीटें, चौड़ी खिड़कियां, स्लाइडिग दरवाजे, मोबाइल चार्जिंग साकेट के साथ सुंदर इंटीरियर है। प्रत्येक कोच में 50 प्रतिशत इमरजेंसी लाइट के साथ ऊर्जा कुशल एलईडी लाइट फिटिग प्रदान की गई है। जीपीएस आधारित पीएपीआइएस (पबल्कि एड्रेस एंड पैसेंजर इनफोरमेशन सिस्टम सार्वजनिक पता और यात्री सूचना प्रणाली) जिसमें प्रत्येक कोच में स्क्रीन डिस्प्ले और लाउड स्पीकर शामिल हैं, यात्रियों को रास्ते में स्टेशनों के बारे में जानकारी देते हैं।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.