श्री गुरु रविदास जी के बताए मार्ग पर चलें : विधायक

श्री गुरु रविदास जी के बताए मार्ग पर चलें : विधायक

फगवाड़ा में श्री गुरु रविदास जी का प्रकाश पर्व मनाया गया।

JagranSun, 14 Mar 2021 11:33 PM (IST)

संवाद सहयोगी, फगवाड़ा : श्री गुरु रविदास जी महाराज के 644वां पावन प्रकाश पर्व को समर्पित रविवार को शहर के अलग-अलग जगहों पर आयोजित अलग-अलग धार्मिक समारोह में विधायक बलविंदर सिंह धालीवाल (रिटायर्ड आइएएस) ने विशेष तौर पर शिरकत की। विधायक धालीवाल ने गुरु महाराज के आगे नतमस्तक होकर उनका आशीर्वाद लिया और सरबत के भले की अरदास की। विधायक धालीवाल ने सुखचैन नगर, प्रीतम नगर, गांव ठक्करकी व गोबिंदपुरा में श्री गुरु रविदास जी महाराज के प्रकाश पर्व को लेकर आयोजित धार्मिक समारोह में शिरकत की। उन्होंने कहा कि गुरु रविदास महाराज ने समाज के उत्थान के लिए भरसक प्रयत्न किए थे। उन्होंने समाज में व्याप्त कुरीतियों को दूर कर समाज में एकता व अखंडता के लिए प्रयास किए। उन्होंने अपने जीवन काल में जात-पात जैसी कुरीतियों को दूर करने के लिए हमेशा सभी को प्रेरित किया। विधायक धालीवाल ने कहा कि हम सभी को श्री गुरु रविदास महाराज जी के बताए रास्ते पर चलकर आपसी भाइचारक सांझ को बनाए रखना चाहिए और समाज व लोक भलाई के कार्यो में बढ़-चढ़कर योगदान देना चाहिए। इस मौके पर मार्केट कमेटी के चेयरमैन नरेश भारद्वाज, सुखमिंदर सिंह, संजीव भटारा जज्जी, जतिंदर सिंह खालसा भी उपस्थित थे।

संकट मोचन महायज्ञ में शामिल हुए केंद्रीय मंत्री सोम प्रकाश संवाद सहयोगी, फगवाड़ा : बाबा रामदेव के सानिध्य में रविवार को गोशाला रिवालाधाम मंदिर मलपुरा, कोटपूतली व जयपुर राजस्थान में जनकल्याण आयोजित संकट मोचन महायज्ञ का आयोजन किया गया जिसमें केंद्रीय राज्य मंत्री सोम प्रकाश ने विशेष तौर पर शिरकत की। उन्होंने महायज्ञ में आहुति डाल संतों का आशीर्वाद लिया।

मंत्री सोमप्रकाश ने कहा कि बाबा रामदेव के योग सीखकर दुनिया भर के लोग योग कर बीमारियों से मुक्त हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि देश को स्वस्थ भारत बनाने में हमारे ऋषि-मुनियों का योगदान अहम है। उन्होंने तप और त्याग के जरिए इस देश को पहचान दी और योग भी उन्हीं की देन है। केंद्रीय मंत्री सोम प्रकाश ने कहा कि योग से नुकसान कुछ भी नहीं पर फायदा जरूर है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.