सोम प्रकाश और सांपला का घेराव करने पहुंचे किसान और भाजपा नेता आमने-सामने, हंगामा

फगवाड़ा के नकोदर रोड पर सतनामपुरा के पास भाजपा नेता और किसानों ने एक-दूसरे के खिलाफ नारेबाजी की।

JagranSat, 24 Jul 2021 07:39 PM (IST)
सोम प्रकाश और सांपला का घेराव करने पहुंचे किसान और भाजपा नेता आमने-सामने, हंगामा

संवाद सहयोगी, फगवाड़ा : फगवाड़ा के नकोदर रोड पर सतनामपुरा क्षेत्र के पास नगर कौंसिल के पूर्व प्रधान बलभद्रसेन दुग्गल के बेटे भाजपा नेता अशोक दुग्गल व पूर्व भाजपा पार्षद नीतू दुग्गल की ओर से तक्ष सेनिटेशन नामक शोरूम खोला गया है। शोरूमके उद्घाटन को लेकर शनिवार को समारोह का आयोजन किया गया था। समारोह में अलग-अलग पार्टियों के राजनीतिक नेताओं को भी आमंत्रित किया गया था। जब किसान संगठनों को पता चला कि इस समारोह में केंद्रीय मंत्री सोम प्रकाश व एससी-एसटी कमीशन के चेयरमैन विजय सांपला पहुंचने वाले है तो किसानों ने शोरूम से चंद कदमों की दूरी पर स्थित पेट्रोल पंप के पास टेंट लगाकर धरना लगा दिया और नारेबाजी शुरू कर दी।

माहौल उस समय तनावपूर्ण हो गया जब शोरूम के उदघाटन को लेकर लगाए गए टेंट को धरने पर बैठे किसानों में से कुछ लोगों ने आगे आकर उखाड़ना शुरू कर दिया। इसके बाद समारोह में शिकरत कर रहे भाजपा नेता भी बाहर आ गए और उन्होंने टेंट उखाड़े जाने का विरोध किया जिसके बाद दोनो पक्ष आमने-सामने हो गए व दोनो पक्षों में जमकर तकरार हुई। भाजपा नेताओं और किसानों ने एक दूसरे के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। मौके पर उपस्थित पुलिस कर्मियों ने बड़ी मुश्किल से दोनो पक्षों में बीच बचाव किया। मामला इतना बढ़ गया कि एसएसपी हरकमलप्रीत सिंह खख को भी मौके पर पहुंचना पड़ा।

भाजपा नेता अशोक दुग्गल ने आरोप लगाया कि यह उनका निजी कार्यक्रम था और इसमें शहर के अलग-अलग गणमान्य व राजनीतिक लोगों ने पहुंचना था। समारोह स्थल से कुछ दूरी पर कथित किसानों की ओर से लगाए गए धरने का उन्हें कोई एतराज नहीं था लेकिन किसानों की आड़ में कुछ कथित शरारती तत्वों ने समारोह को लेकर उनकी ओर से लगाए गए टेंट को उखाड़ना शुरू कर दिया। टेंट गिरने से समारोह में मौजूद महिलाओं को इधर-उधर भागकर अपना बचाव करना पड़ा जबकि इस दौरान कुछेक युवकों को चोट भी आई।

निजी कार्यक्रम में बाधा डालना उचित नहीं : आशु सांपला समारोह में शिरकत करने आए युवा भाजपा नेता आशु सांपला ने इस तरह की कार्रवाई विरोध करते हुए कहा कि किसी के भी निजी कार्यक्रम को खराब करने का किसी को अधिकार नहीं है और ऐसा करना पूरी तरह से गलत है। आशु सांपला ने कहा कि किसान भाई इस तरह की हरकत नहीं कर सकते, निजी समारोह को लेकर लगे टैंक का उखाड़ने का काम किसानों की आड़ में आए कुछ कथित शरारती तत्वों ने किया। समारोह में शिरकत करने आए व्यापारी वर्ग ने भी इस घटना की निदा करते हुए कहा कि किसी के निजी कार्यक्रम में इस तरह की हरकत करना पूरी तरह से गलत है।

जांच के बाद दोषियों पर होगी कार्रवाई : एसएसपी

उधर एसएसपी हरकमलप्रीत सिंह खख ने कहा कि इस मामले में जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ बनती कार्रवाई की जाएगी। पुलिस की ओर से घटना की जांच की जा रही है।

किसानों ने आरोपों को बेबुनियाद बताया

उधर, किसानों ने आरोपों को पूरी तरह से गलत और बेबुनियाद बताया है। उन्होंने कहा कि जब तक किसानों का मसला हल नहीं हो जाता भाजपा नेताओं का विरोध जारी रहेगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.