औषधीय पौधे लगाकर मुनाफा बढ़ाएं किसान

संत बलबीर सिंह सीचेवाल की आयुश मंत्रालय के अधिकारियों के साथ निर्मल कुटिया सुल्तानपुर लोधी में विशेष बैठक हुई।

JagranSat, 24 Jul 2021 11:33 PM (IST)
औषधीय पौधे लगाकर मुनाफा बढ़ाएं किसान

संवाद सहयोगी, सुल्तानपुर लोधी : संत बलबीर सिंह सीचेवाल की आयुश मंत्रालय के उत्तरी क्षेत्रीय सुविधा केंद्र के रीजनल डायरेक्टर डा. अरुण चंदन और डा. सौरव शर्मा के साथ निर्मल कुटिया सुल्तानपुर लोधी में विशेष बैठक हुई। बैठक में पंजाब में हर्बल खेती को प्रफुल्लित करने के लिए 35 से अधिक किस्मों के बारे में डा. अरुण ने संत सीचेवाल को जानकारी दी। संत सीचेवाल ने कहा कि पंजाब के किसानों को फसली चक्र के लिए जागरूक किया जा सकता है अगर पहले हर्बल खेती की फसलों की मार्केटिंग और प्रोसेसिग का स्थायी प्रबंध किया जाए। किसानों को भरोसा हो कि हर्बल खेती धान के फसली चक्र की अपेक्षा अधिक लाभ देने के काबिल है। पहले एक दो एकड़ में हर्बल खेती करके सफल माडल किसानों के आगे रखा जाए।

हर्बल खेती की योजना पर एक साल से काम कर रही संत सीचेवाल की टीम के सेवक गुरविंदर सिंह बोपाराए ने बताया कि संत सीचेवाल ने हमेशा किसानों की भलाई के लिए काम किया है। दो हफ्ते पहले कुदरती खेती करने वाले किसान परमजीत सिंह, पंजाब चितक पाल सिंह नौली समेत संत सीचेवाल की टीम श्री धनवंतरी हर्बल के डा. जेपी सिंह के साथ हर्बल खेती के संबंध में अमृतसर में बैठक हुई थी। डा जेपी सिंह ने आयुर्वेदिक दवाइयां बनाने के लिए शुद्ध हर्बल पौधों की कमी पर चिता जाहिर की की थी। उन्होंने किसानों को संत सीचेवाल की सहायता के साथ हर्बल खेती की तरफ प्रेरित करने के लिए कार्य योजना बनाने के लिए आयुष विभाग की टीम को सुल्तानपुर लोधी भेजा गया है। किसानों की आमदनी दुगनी करने की योजना पर अमल होगा और साथ आयुर्वेदिक दवाओं के लिए शुद्ध हर्बल पदार्थ एकत्रित करने को यकीनी बनाने पर काम होगा।

इस मौके पर संत सीचेवाल जी की तरफ से आई टीम को किश्ती द्वारा पवित्र बेई की यात्रा करवाई गई। साथ ही वेईं किनारे लगाए 40 से अधिक किस्मों के हर्बल पौधे भी दिखाए गए। पवित्र बेई की कार सेवा के साथ बदली छवि के बारे लगी प्रदर्शनी भी दिखाई। आयुष विभाग की आई टीम को संत सीचेवाल ने सम्मानित भी किया। इस मौके डा भूपिंदर सिंह प्रोजेक्ट डायरेक्टर आत्मा स्कीम पंजाब, डा. राजेश कुमार सहायक प्रोफेसर फिजिक्स विभाग डीएवी कालेज अमृतसर, डा रुपिन्दरजीत कौर, यादविंदर सिंह, सुरजीत सिंह शंटी आदि उपस्थित थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.