Weather Forecast Jalandhar: जालंधर में सुबह-सुबह चल रही ठंडी हवाएं, तापमान में आई गिरावट

नवंबर माह के मध्यांतर के बाद से लेकर तापमान तेजी के साथ करवट ले रहा है। तड़के ठंडी हवाएं चलने के साथ तापमान में गिरावट हो रही है। दोपहर के समय रोजाना तेज धूप खिली रहने के बाद से ही तड़के तापमान में भारी अंतर आ रहा है।

Vipin KumarPublish:Tue, 23 Nov 2021 08:58 AM (IST) Updated:Tue, 23 Nov 2021 08:58 AM (IST)
Weather Forecast Jalandhar: जालंधर में सुबह-सुबह चल रही ठंडी हवाएं, तापमान में आई गिरावट
Weather Forecast Jalandhar: जालंधर में सुबह-सुबह चल रही ठंडी हवाएं, तापमान में आई गिरावट

जागरण संवाददाता, जालंधर। मंगलवार सुबह की शुरुआत ठंडी हवाओं के साथ हुई लोग गर्म कपड़े डालकर सैर को जा रहे थे। वाहनों की रफ्तार काफी धीमी थी। तड़के व रात को पारा गिरने से न्यूनतम तापमान लुढ़ककर आठ डिग्री सेल्सियस रहेगा। हालांकि, दोपहर के समय तेज धूप खिली। जिसके चलते अधिकतम तापमान 25 डिग्री का आंकड़ा छू गया था। उधर, मौसम विभाग की मानें तो आने वाले 24 घंटे के दौरान मौसम यथावत रहेगा।

दरअसल, नवंबर माह के मध्यांतर के बाद से लेकर तापमान तेजी के साथ करवट ले रहा है। तड़के ठंडी हवाएं चलने के साथ तापमान में गिरावट हो रही है। दोपहर के समय रोजाना तेज धूप खिली रहने के बाद से ही तड़के व रात के तापमान में भारी अंतर आ रहा है। जिसके परिणामस्वरुप तड़के व देर रात को तापमान गिरावट हो रही है। इस बारे में मौसम विशेषज्ञ डा. विनीत शर्मा बताते है कि पश्चिमी विक्षोभ के चलते मौसम में तेजी के साथ बदलाव हो रहा है। उन्होंने कहा कि दीपावली के बाद ही न्यूनतम व अधिकतम तापमान में भारी अंतर आ रहा है। इसके अलावा पहाड़ी इलाकों में चल रही ठंडी हवाओं का असर मैदानी इलाकों में ठंड बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि नवंबर माह के अंत तक मौसम यथावत रहेगा।

यह भी पढ़ें-Ludhiana Central Jail में कैदी की पिटाई के आरोप पर High Court सख्त, डीजीपी से जवाब तलब

बढ़ रही ठंड बच्चों व बुजुर्गों के लिए नुकसानदायक

सिविल अस्पताल के डॉ. ईशु सिंह कहती है कि सुबह और शाम को ठिठुरन और दोपहर को मौसम खुलने की वजह से शरीर का तापमान गड़बड़ा जाता है। यह बच्चों व बुजुर्गों के लिए नुकसानदायक साबित हो सकती है। उन्होंने ठंड से बचाव के लिए सभी को गर्म कपड़े डालने की सलाह दी।

यह भी पढ़ें-पराली के प्रदूषण से 48 साल में 1.06 घंटा कम हुआ पंजाब में धूप का समय, पीएयू के अध्ययन में हुआ खुलासा