Tokyo Olympics 2020 : दो गोल करने वाली गुरजीत कौर की दादी बोली- हारने का दुख नहीं, पोती पर गर्व

भारतीय महिला हॉकी टीम की ग्रेट ब्रिटेन के साथ हुई कांटे की टक्कर में 4-3 से मिली हार पर गुरजीत कौर के परिवार को भले ही निराशा है मगर हारने का दुख नहीं है। उनका कहना है कि हार जीत परमात्मा के हाथ होती है।

Vinay KumarFri, 06 Aug 2021 09:04 AM (IST)
अमृतसर में हाकी खिलाड़ी गुरजीत कौर के घर में लोगों की भीड़ हुई जमा।

जागरण संवाददाता, अमृतसर। Tokyo Olympic-2020 महिला हॉकी ब्रांज मेडल मैच में ब्रिटेन के साथ कांटे की टक्कर में 4-3 से मिली हार से मैच में दो गोल करने वाली गुरजीत कौर के परिवार को भले ही निराशा है, मगर हारने का दुख नहीं है। भाई गुरचरन सिंह ने कहा कि हार जीत परमात्मा के हाथ होती है। उन्हें खुशी है कि गुरजीत ने लीग मैचों से लेकर क्वार्टर फाइनल और सेमीफाइनल के बाद अब ब्रांज मेडल मैच में अपनी प्रतिभा दिखाई है। गुरजीत कौर की दादी दर्शन कौर का कहना है कि उन्हें अपनी पोती पर गर्व महसूस होता है, क्योंकि उनकी पोती ने अपने बाप-दादाओं का नाम रोशन किया है। परमात्मा से अरदास करते हैं कि गुरजीत कौर की तरह नाम रोशन करने वाली बेटी हर परिवार में होनी चाहिए।

 

भारतीय महिला हाकी टीम के ग्रेट ब्रिटेन के साथ चल रहे मैच को देखने के लिए गुरजीत कौर के घर में सुबह ही लोगों की भीड़ जमा हो गई थी। मैच के तीसरे क्वार्टर तक दोनों ही टीमें कांटे की टक्कर देकर बराबरी पर चलती रही। मैच देख रहे सभी खेल प्रेमी और देशवासियों में उम्मीद थी कि चौथे क्वार्टर में भारत की टीम को डू एंड डाई वाली रणनीति अपनाते हुए इतिहास रचेगी लेकिन क्वार्टर-4 में ब्रिटेन ने 4-3 से आगे होकर मैच पर कब्जा किया।

अमृतसर में मैच के दौरान जीत के आश्वस्त गुरजीत का परिवार विक्ट्री साइन दिखाते हुए।

पहले क्वार्टर में भारतीय महिला हॉकी टीम ने 0-2 से पिछड़ने के बाद ब्रिटेन को करारा जवाब दिया था। ब्रांज मेडल मैच में टीम की अगुआई वाली भारतीय टीम से गुरजीत कौर दो जबकि वंदना कटारिया एक गोल दाग कर तीन-तीन की बराबरी की। वंदना कटारिया ने दूसरे क्वॉर्टर के खत्म होने से डेढ़ मिनट पहले शानदार गोल कर भारत को 3-2 से बढ़त दिला दी थी। बता दें कि ब्रिटेन के खिलाफ रोमांचक मैच में भारत को 3-4 के करीबी अंतर से हार का सामना करना पड़ा है।  ब्रिटेन की टीम ने भारत से बेहतर प्रदर्शन करते हुए ब्रांज मेडल जीत लिया।

यह भी पढ़ें - Tokyo Olympics 2020: मैच से पहले Gurjeet Kaur के गांव में बत्ती गुल, पिता ने आनन-फानन में किया जेनरेटर का इंतजाम

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.