Punjab Roadways Strike: यात्रियों की संख्या में आई भारी गिरावट, 50 फीसद कम मुसाफिर पहुंचे बस स्टैंड

पंजाब रोडवेज कॉन्ट्रैक्ट मुलाजिमों की हड़ताल के चलते जहां बसों की कमी है वहीं दूसरी तरफ यात्रियों की संख्या में भारी गिरावट आना शुरू हो गई है। यात्रियों की संख्या में लगभग 50 फीसद की गिरावट आने का अनुमान लगाया जा रहा है।

Vinay KumarPublish:Tue, 07 Dec 2021 11:56 AM (IST) Updated:Tue, 07 Dec 2021 12:07 PM (IST)
Punjab Roadways Strike: यात्रियों की संख्या में आई भारी गिरावट, 50 फीसद कम मुसाफिर पहुंचे बस स्टैंड
Punjab Roadways Strike: यात्रियों की संख्या में आई भारी गिरावट, 50 फीसद कम मुसाफिर पहुंचे बस स्टैंड

जालंधर [मनुपाल शर्मा]। पंजाब रोडवेज कॉन्ट्रैक्ट मुलाजिमों की हड़ताल के चलते जहां बसों की कमी है वहीं दूसरी तरफ यात्रियों की संख्या में भी 9:30 बजे के बाद भारी गिरावट आना शुरू हो गई है। 10 बजे तक का हालात यह हो चुके हैं कि यात्रियों की संख्या में लगभग 50 फीसद की गिरावट आने का अनुमान लगाया जा रहा है। यात्रियों की संख्या में गिरावट आने की मुख्य वजह यह मानी जा रही है कि बीते कल से ही मुलाजिमों के हड़ताल पर चले जाने संबंधी सूचना मीडिया में प्रचारित की जा रही थी, जिस वजह से नौकरी पेशा यात्रियों के अलावा अन्य यात्री बेहद कम संख्या में बस स्टैंड पहुंचे हैं।

निजी बस कंपनी करतार बस सर्विस के अड्डा इंचार्ज नरोत्तम ने कहा कि सुबह 9:30 बजे तक अन्य शहरों में नौकरी के लिए जाने वाले यात्रियों की भीड़ रहती है। आज उस भीड़ में भी कुछ गिरावट थी। इसके अलावा अन्य यात्रियों की संख्या में तो लगभग 50 फीसद की गिरावट है। यही वजह है कि बस स्टैंड पर ज्यादा यात्री नजर नहीं आ रहे हैं। बस स्टैंड पर वही यात्री खड़े हैं जो रियायती किराए के लिए पंजाब रोडवेज की बस के आने का  इंतजार कर रहे हैं। हालांकि सुबह के समय निजी बसों में भी यात्री खड़े होकर सफर करते देखे गए थे।

निजी ऑपरेटरों का तर्क है कि सर्दियों के मौसम में 9 बजे के बाद सवारी निकलना शुरू होती है लेकिन हड़ताल की वजह से सवारी बढ़ने की वजह एकाएक से कम हुई है ऑपरेटर यह खदशा भी जता रहे हैं कि अगर हड़ताल लंबी खिंचती है तो फिर कल से यात्रियों की संख्या में और गिरावट आ जाएगी।