जालंधर में शिवसेना राष्ट्रहित की बैठक में बोले सुभाष- आंतकवाद से प्रभावित परिवारों को सरकार दे राहत पैकेज

जालंधर में शिव सेना राष्ट्रहित की एक बैठक पार्टी मुख्य कार्यालय जालंधर में हुई। बैठक के दौरान पार्टी में 15 परिवारों को शामिल किया गया। पार्टी प्रमुख सुभाष ने कहा कि जो परिवार जुड़े हैं उनको पार्टी के अंदर जल्द ही बनता सम्मान दिया जाएगा।

Vinay KumarSun, 28 Nov 2021 02:44 PM (IST)
जालंधर में 15 परिवारों ने शिवसेना राष्ट्रहित का दामन थामा।

जागरण संवाददाता, जालंधर। जालंधर में शिव सेना राष्ट्रहित की एक बैठक पार्टी मुख्य कार्यालय गीता कॉलोनी गोरिया कांप्लेक्स कांशी नगर रोड बस्ती शेख जालंधर में पार्टी प्रमुख सुभाष गोरिया के दिशा-निर्देशों पर महिला प्रमुख जीवन प्रभा, उपप्रमुख पंडित अशोक भारद्वाज और महिला विंग की महासचिव मिना हंस की अध्यक्षता में हुई। जिसमें पार्टी प्रमुख सुभाष गोरिया विशेष तौर पर उपस्थित हुए। जिन्होंने आज पार्टी में 15 परिवारों को शामिल किया। इस अवसर पर सुभाष गोरिया ने कहा कि जो शिव सेना राष्ट्रहित की विचारधारा से जो परिवार जुड़े है उनको पार्टी के अंदर जल्द ही बनता सम्मान दिया जाएगा।

उन्होंने कहा कि पंजाब की अमन शांति को भंग करने की साजिश पड़ोसी देश पाकिस्तान करने की ताक में है।  उन्होंने कहा कि पंजाब में शिव सेना और आरएसएस के नेताओं पर आंतकी हमले का खतरा बताया जा रहा है। खुफिया एजेंसिया अलर्ट हो चुकी हैं। उन्होंने कहा कि 1984 के जख्म अभी पंजाबियों के नहीं भरे और विदेशी ताकते पंजाब में वो फिर काले दौर लाने की तैयारी में लगी हैं जो हम नहीं होने देंगे। सुभाष गोरिया ने पंजाब के मुख्यमंत्री चरनजीत सिंह चन्नी से मांग की है कि पंजाब में दंगे पीड़ित परिवारों को सहायता दी जाए। दंगा पीड़ित परिवारों के तर्ज पर ही आंतकवाद से प्रभावित 32,514 परिवारों को राहत पैकेज मिलना चाहिए। शिव सेना राष्ट्रहित के प्रमुख सुभाष गोरिया ने कहा कि 32,514 आंतकवाद से प्रभावित परिवारों को जल्द ही राहत पैकेज दिया जाएगा।

10,636 आंतकवाद से प्रभावित परिवारों में से क्रमश 10,194 तथा 442 परिवारों को एक लाख तथा दो लाख रुपए की एक्सग्रेशिया राशि दी जा चुकी है। इन परिवारों को एक्सग्रेशिया के अलावा प्रत्येक को साढ़े तीन लाख रुपए की और राशि दी जानी चाहिए। इस तरह इसके लिए 372.26 करोड़ रुपए की जरूरत होगी। उन्होंने बताया कि इनके अतिरिक्त्त राज्य में जिला प्रशासन के पास 17,420 आंतरिक/बाहरी विस्थापितों का पंजीकरण किया गया है तथा उन्हें 2-2 लाख रुपए की पुनवार्स ग्रांट दी जानी चाहिए। इस प्रकार इसके लिए कुल राशि 348 करोड़ रुपए की जरूरत होगी। आंतकवादियों द्वारा घायल किए गए 908 लोगों में से 795 लोगों को 5-5 हजार तथा 113 लोगो की 1-1 लाख रुपए की राशि दी गई थी। प्रस्ताव में इस राशि को बढ़ाकर 1.25 लाख रुपए किया जाना चाहिए।

इस तरह इसके लिए 9.83 करोड़ रुपए की जरूरत होगी। उन्होंने कहा कि उपरोक्त आंकड़ों के अतिरिक्त पंजाब के प्रत्येक डिप्टी कमिश्नर ने आंतकवाद के कारण कृषि, कारोबार, औद्योगिक नुकसान व अन्य नुकसान की भरपाई का पता लगाया था तथा उनके लिए भी अनुमानित 50 करोड़ रुपए की राशि देनी होगी। इस तरह राहत पैकेज की कुल राशि लगभग 781 करोड़ रुपए बनेगी। सुभाष गोरिया ने कहा कि यहां इस बात का उल्लेख करना जरूरी है कि प्रस्ताव के तहत 32,514 वे परिवार शामिल है जोकि राज्य सरकार के पास पंजीकृत हैं। जबकि राज्य में आंतकवाद के कारण 50,000 परिवार प्रभावित हुए थे।

शिव सेना राष्ट्रहित में आज आशा रानी चड्ढा, सिमु शर्मा, जसबीर कौर, डोली वरमा, सुमन घई, मनजीत कौर, परमजीत कौर, मुकेश कुमार, अरुण शर्मा, अजय कुमार, साहिल वर्मा, पूजा अरोड़ा, सुनील कुमार, परमजीत कौर, मनोहर लाल, कमलजीत कौर, बलविंदर कुमार आदि को पार्टी महिला प्रमुख जीवन प्रभा ने सरोपा भेट कर पार्टी अंदर शामिल किया। इस अवसर पर पंजाब उपप्रमुख सतीश भगत, सुभाष बरार, विक्की कुमार, अजय कुमार, परमजीत, दिशो, परमजीत यादव, दीपक धवन, बलदेव भगत, अर्जुन थापर जिला प्रमुख शिव सेना राष्ट्रहित भी मौजूद थे।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.