दिल्ली हिंसा पर अमरिंदर के उलट सिद्धू का बयान, बोले- अगर इतिहास से सबक नहीं सीखते तो यह खुद को दोहराता है

दिल्ली हिंसा के बाद पंजाब के पूर्व कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने किसानों के समर्थन में ट्वीट की है।

पंजाब के पूर्व कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने एक बार फिर कैप्टन से उलट अपना अलग सुर छेड़ा है। लालकिला और दिल्ली के अन्य हिस्सों में किसानों के ट्रैक्टर मार्च के दौरान हिंसा को जहां कैप्टन ने अस्वीकार्य बताया वहीं सिद्धू ने ट्वीट करके केंद्र पर कटाक्ष किया।

Publish Date:Tue, 26 Jan 2021 07:34 PM (IST) Author: Pankaj Dwivedi

जालंधर, जेएननएन। मंगलवार को गणतंत्र दिवस पर दिल्ली में किसान ट्रैक्टर रैली के दौरान हुई हिंसा को जहां पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह अस्वीकार्य करार दिया है वहीं उनकी ही पार्टी के कुछ नेता गोलमोल बातों के साथ इस पर प्रतिक्रिया व्यक्त कर रहे हैं। इन्हीं में से एक हैं अक्सर विवादों में रहने वाले पूर्व कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू। उन्होंने एक बार फिर कैप्टन के उलट अपना अलग सुर छेड़ा है।

यह भी पढ़ें - पंजाब के सीएम कैप्‍टन अमरिंदर ने कहा- दिल्‍ली में ट्रैक्‍टर परेड जो हुआ वह अस्‍वीकार्य, दृश्‍य Shocking

लालकिला और दिल्ली के अन्य हिस्सों में किसानों के ट्रैक्टर मार्च के दौरान हिंसा के बाद नवजोत सिंह ने ट्वीट करके केंद्र सरकार पर कटाक्ष किया है। उन्होंने कहा कि यदि आप इतिहास से अपने सबक नहीं सीखते हैं, तो यह खुद को दोहराता है ... इतिहास हमें बताता है किसानों के खिलाफ कोई सरकार कभी नहीं जीती है।

पंजाब कांग्रेस नेता और पूर्व कैबिनेट मंत्री नवजोत सिद्धू का मंगलवार को किया गया ट्वीट।

केंद्र सरकार ने हालात बिगड़ने दिएः आप पंजाब सह-प्रभारी

वहीं आम आदमी पार्टी नेता और पंजाब आप सह-प्रभारी राघव चड्ढा ने कहा कि AAP हिंसा की कड़ी निंदा करती है। यह खेदजनक है कि केंद्र सरकार ने हालात को इस हद तक बिगड़ने दिया। पिछले दो महीने से आंदोलन शांतिपूर्ण है। किसान नेताओं ने कहा है कि जो लोग हिंसा में शामिल थे, वे आंदोलन का हिस्सा नहीं थे, बल्कि बाहरी तत्व थे। वे जो भी हैं, दिल्ली में हुई हिंसा ने निश्चित रूप से आंदोलन को कमजोर कर दिया है। यह अब तक शांतिपूर्ण और अनुशासित तरीके से चल रहा था।

बता दे कि मंगलवार को गणतंत्र दिवस पर दिल्ली पुलिस की सहमति से किसानों ने ट्रैक्टर रैली निकाल रहे थे। इसी दौरान भीड़ अनियंत्रित हो गई। बड़ी संख्या में लोग लाल किले तक पहुंच गए। इस दौरान कई जगह हिंसा की गई। उपद्रवियों ने पुलिस के लगाए बैरिकेड्स तोड़ डाले। बसों को भी आग लगाकर नुकसान पहुंचाया गया है।

यह भी पढ़ें: पंजाब के सीएम कैप्‍टन अमरिंदर ने कहा- दिल्‍ली में ट्रैक्‍टर परेड जो हुआ वह अस्‍वीकार्य, दृश्‍य Shocking

यह भी पढ़ें: Republic Day 2021: अटारी वाघा बार्डर पर बीटिंग रिट्रीट सेरेमनी पर शानदार कार्यक्रम, देखें वीडियो

 

हरियाणा की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

पंजाब की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.