पंजाब के सीएम चन्नी ने कहा- अरविंद केजरीवाल खुद नकली, सिद्धू बोले- अन्ना के घोड़े ने दिलाई सत्ता

पंजाब के मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह चन्‍नी और पंजाब कांग्रेस के अध्‍यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर हमला किया हे। चन्‍नी ने खुद को नकली केजरीवाल कहने पर पलटवार करते हुए कहा कि दिल्ली के सीएम खुद नकली हैं।

Sunil Kumar JhaPublish:Wed, 24 Nov 2021 11:42 PM (IST) Updated:Wed, 24 Nov 2021 11:42 PM (IST)
पंजाब के सीएम चन्नी ने कहा- अरविंद केजरीवाल खुद नकली, सिद्धू बोले- अन्ना के घोड़े ने दिलाई सत्ता
पंजाब के सीएम चन्नी ने कहा- अरविंद केजरीवाल खुद नकली, सिद्धू बोले- अन्ना के घोड़े ने दिलाई सत्ता

पटियाला/अमृतसर, जेएनएन। आम आदमी पार्टी के कन्‍वीनर और दिल्‍ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल लगातार पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी और पार्टी अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के निशाने पर हैं। बुधवार को चन्नी ने पटियाला यूनिवर्सिटी में प्रबंधन के साथ मीटिंग के बाद मीडिया से बातचीत में कहा कि केजरीवाल सिर्फ एलान कर रहे हैं, जबकि पंजाब में कांग्रेस सरकार काम करके दिखा रही है। केजरीवाल खुद नकली हैं, उनका सिस्टम चल नहीं रहा, इसलिए अब पंजाब के लोगों को ठग रहे हैं। गौरतलब है कि दिल्ली के सीएम ने चन्नी को नकली केजरीवाल कहा था। दूसरी ओर अमृतसर में नवजोत सिंह सिद्धू ने केजरीवाल पर निशाना साधा।  

चन्नी ने कहा -केजरीवाल सिर्फ एलान कर रहे, पंजाब सरकार काम करके दिखा रही

वहीं, सिद्धू ने अमृतसर में कहा कि अरविंद केजरीवाल तो अन्ना हजारे के घोड़े पर सवार होकर सत्ता में आ गए, जबकि वहां पुल कैसे बनेंगे और विकास कैसे होगा यह तो शीला दीक्षित ने बताया था। पंजाब और दिल्ली के हालात में बहुत फर्क है।

मोगा के बाघापुराना में चन्नी व सिद्धू की रैली 

मोगा: मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी व पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष नवजोत सिद्धू वीरवार को मोगा के बाघापुराना में रैली करेंगे। दोनों नेता सबसे पहले बाघापुराना की नई दाना मंडी में जनसभा को संबोधित करेंगे। बाद में मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी मोगा की पुरानी दाना मंडी में पहले महाराजा अग्रसेन महाराज की प्रतिमा का अनावरण करेंगे।

कांग्रेस विधायक ने आरएसएस से जुड़े वीसी के साथ बैठने से किया इन्कार

पटियाला के हलका घनौर से कांग्रेस विधायक मदन लाल जलालपुर ने पंजाबी यूनिवर्सिटी में मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी की ओर से की जा रही प्रेसवार्ता के दौरान कुलपति (वीसी) के साथ बैठने को इन्कार कर दिया। सीएम ने जलालपुर को अपने पास बैठने के लिए बुलाया, लेकिन वह स्टेज पर लगी कुर्सियों की जगह मीडिया कर्मियों के साथ जा बैठे।

उन्होंने कहा, 'सीएम साहब, आपने आरएसएस का वीसी लगा रखा है। मैं इनके साथ नहीं बैठूंगा। मैं स्टेज पर नहीं आऊंगा। कैप्टन ने आरएसएस की सिफारिश पर वीसी को लगाया था। इन्होंने यूनिवर्सिटी का क्या हाल कर दिया है। जब जलालपुर यह सब बोल रहे थे, तब मुख्यमंत्री के अलावा वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल, वीसी प्रो. अरविंद व डीन अकादमिक डा. बीएस संधू के साथ कई अधिकारी भी मौजूद थे।