Bharat Bandh: जालंधर में कृषि विधेयकों के विरोध में किसानाें के बंद का दिखा असर, जबरन बंद करवाई दुकानें

जालंधर के पीएपी चाैक में धरना देने पहुंचे किसान। (जेएनएन)
Publish Date:Fri, 25 Sep 2020 10:39 AM (IST) Author: Vipin Kumar

जालंधर, जेएनएन। LIVE Bharat Bandh: कृषि विधेयक के खिलाफ पंजाब की किसान जत्थेबंदियों व अकाली दल सहित कांग्रेस समर्थित पंजाब बंद का असर जालंधर में सुबह से ही दिखाई देने लगा था। सुबह सब्जी मंडी खुली लेकिन मौके पर किसानों ने जाकर मंडी बंद करवा दी।  

अादमपुर में धरने पर बैठे विधायक पवन टीनू व अन्य नेता। 

इसी प्रकार जब बैंक और बाजार सुबह खुलने लगे तो अकाली दल के कार्यकर्ताओं ने बाजार बंद करवा दिए। 11:00 बजे के बाद शहर के सभी एंट्री प्वाइंट व हाईवे पर किसान व अकाली दल के कार्यकर्ताओं ने अलग-अलग स्थानों पर हजारों की संख्या में एकत्र होकर दोपहर 12:00 बजे तक बंद को पूर्ण रूप से सफल बना दिया।

बसों व ट्रेनों का परिचालन बंद 

गुरु रविदास चौक में चक्का जाम करते अकाली नेता अमरप्रीत सिंह मोंटी, भजनलाल चोपड़ा, चरणजीव सिंह लाली।

इस दौरान बसों व ट्रेनों का परिचालन पूरी तरीके से बंद रहा बस स्टैंड से एक भी बस रवाना नहीं होने दी गई रेलवे ने पंजाब बंद को देखते हुए पहले ही ट्रेनें ना चलाने का फैसला कर लिया था। आज चलने वाली 14 ट्रेनों को रेलवे प्रशासन ने रद कर दिया था। इसके चलते विभिन्न स्थानों के लिए जाने वाले यात्रियों को खासी परेशानी उठानी पड़ी। सुबह सैकड़ों लोगों के घरों में दूध की सप्लाई भी प्रभावित रही।

किसानों के हक में बीएमसी चौक में धरना देते पंजाब इंडस्ट्री डेवलपमेंट बोर्ड के डायरेक्टर मलविंदर सिंह लक्की, शहीद उधम सिंह यूथ क्लब के सदस्य कुलविंदर सिंह हीरा बोलिना। 

दिलकुशा मार्केट को भी नहीं खुलने दिया

बसपा के कार्यकर्ताओं ने पठानकोट चौक पर लगाया धरना। 

बंद के समर्थकों ने जालंधर स्थित होलसेल दवा की दिलकुशा मार्केट को भी नहीं खुलने दिया यही असर शहर के अंदरूनी हिस्से से लेकर बाहरी हिस्सों तक में बनी दुकानों का रहा व्यापारियों ने शोरूम भी नहीं खोलें सरकारी दफ्तर खुले रहे लेकिन दर्जनों मुलाजिम दफ्तरों से गायब दिखाई दिए निजी कंपनियों के ज्यादातर दफ्तर बंद रहे कुल मिलाकर जालंधर में हाईवे से लेकर शहर के अंदर तक बंद का 12:00 बजे तक पूरा असर दिखाई दिया। 

जालंधर में किसानों के पंजाब बंद के दौरान शुक्रवार को वेरका मिल्क प्लांट के पास धरना देते हुए अकाली कार्यकर्ता। उनका नेतृत्व कर रहे हैं जिला प्रधान कुलवंत सिंह मन्नण।

पंजाब बंद के दौरान जालंधर के भोगपुर में नेशनल हाईवे पर धरना देते हुए किसान संगठनों के सदस्य।

जालंधर में कहीं से कोई अप्रिय समाचार नहीं

बंद को लेकर जालंधर में कहीं भी कोई अप्रिय घटना की सूचना नहीं है।  बंद को शांतिपूर्ण नहीं कहा जा सकता है क्योंकि दुकानें जबरन बंद करवाई गई हैं, लेकिन दुकानदारों ने विरोध भी नहीं किया। इसलिए बंद समर्थकों व दुकानदारों के बीच कहीं टकराव की स्थिति फिलहाल नहीं पैदा हुई। 

उधर अली मोहल्ला पुली से विभिन्न संस्थाओं के सदस्य दोपहिया वाहनों पर सवार होकर शहर में राउंड निकालने के लिए निकल रहे हैं। यहां पर सिख तालमेल कमेटी के प्रमुख तेजिंदर सिंह परदेसी, हरपाल सिंह चड्ढा, हरप्रीत सिंह नीटू, परमिंदर सिंह दशमेश नगर व जितेंद्र पाल सिंह मझैल सहित विभिन्न संस्थाओं के सदस्य शामिल हुए। उधर भगवान वाल्मीकि चौक में किसान तथा सब्जियों के थोक कारोबारियों ने धरना लगाकर रोष जताया।

 

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.