राधा माधव मंदिर से निकाली प्रभातफेरी का भव्य स्वागत

जागरण संवाददाता, जालंधर : श्री चैतन्य महाप्रभु राधा माधव मंदिर, प्रताप से शनिवार को निकाली गई प्रभातफेरी का विभिन्न संस्थाओं की तरफ से भव्य स्वागत किया गया। यह प्रभातफेरी मंदिर प्रांगण से शुरू होकर विभिन्न इलाकों से होते हुए विकासपुरी पहुंची। जहां इलाके के लोगों ने पुष्पवर्षा के साथ अभिनंदन किया।

संस्था की तरफ से कार्तिक मास को लेकर जारी प्रभातफेरियों के क्रम में निकाली गई प्रभातफेरी की अगुवाई श्रीधाम मायापुर से पधारे त्रिदंडी स्वामी 108 श्री भक्ति पारंगत सन्यासी महाराज ने की। इसके उपरांत पुजारी हरिप्रसाद, कुलदीप मेहता, रेवती रमन गुप्ता, नीरज कोहली, अमित चड्ढा, राजन शर्मा, सन्नी दुआ, यंकिल कोहली द्वारा गुरु वंदना, वैष्णव वंदना व पंचतत्व महामंत्र का उच्चारण हुआ। रेवती रमन गुप्ता ने 'राधा रानी कृपा करो-महारानी कृपा करो', कुलदीप मेहता ने 'जय राधे राधे राधे जय रामन बिहारी जी', राजन गुप्ता ने 'वृंदावन में, कुंज गलिन में, राधे राधे गाएंगे-श्यामा श्यामा गाएंगे' की प्रस्तुति दी।

इस मौके पर साईं दास शर्मा, सुशील पराशर, राजेश ज्योति, सुमित गौतम, देव राज नैयर, विपन चड्ढा, पवन शर्मा, बलदेव राज मदान, अशोक कपूर, विजय शर्मा, हरकेश शर्मा, विशाल सेठी, शालू सेठी, बबलू, सुरेश आहुजा, जसवंत राय शर्मा, अनिल शर्मा, अभिमन्यु घई, सुभाष वर्मा, अरुण सचदेव, खुशविदर वर्मा, राज मदान, टोनी मदान, मुकेश के अलावा सत्यव्रत गुप्ता, अजय अग्रवाल, अमित जिदल, कपिल देव शर्मा, अश्विनी मिटा, राकेश कोछड़, गुरप्रीत सिंह, ललित अरोड़ा, करतार सिंह, प्रेम चोपड़ा, केवल कृष्ण, गगन अरोड़ा, अकाश मल्होत्रा, अजीत तलवाड़, असीम कृष्णदास, तरसेम लाल गुप्ता, राजकुमार जिदल, चेतन दास, शशि भूषण, हेमंत थापर, विजय सग्गड़, संदीप चोपड़ा, गगन चोपड़ा, गुरविंदर, ललित चड्ढा, अजय शर्मा, लवलीन कुमार, रवि आहुजा, परमजीत कुमार, जगन्नाथ, मिटू कश्यप, मनोज कौशल, यशपाल गुप्ता, रामदेव वर्मा, साहिल नैय्यर, वनीत अरोड़ा, संजय कालिया, सुभाष गुलाटी व अन्य मौजूद थे।

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.