जालंधर में अवैध पिस्टल के साथ गिरफ्तार सोनू व राजन को प्रोडक्शन रिमांड पर लाई पुलिस, हत्या के प्रयास मामले में कर रही पूछताछ

जालंधर में अवैध पिस्टल और पांच कारतूस के साथ गिरफ्तार किए गए सोनू रूड़का और राजन पंडित को पुलिस प्रोडक्शन रिमांड पर लेकर आई है। मामले में पूछताछ के दौरान वारदात में शामिल अन्य आरोपितों के विषय में अहम सुराग हाथ लगे हैं।

Vinay KumarPublish:Tue, 30 Nov 2021 10:49 AM (IST) Updated:Tue, 30 Nov 2021 10:49 AM (IST)
जालंधर में अवैध पिस्टल के साथ गिरफ्तार सोनू व राजन को प्रोडक्शन रिमांड पर लाई पुलिस, हत्या के प्रयास मामले में कर रही पूछताछ
जालंधर में अवैध पिस्टल के साथ गिरफ्तार सोनू व राजन को प्रोडक्शन रिमांड पर लाई पुलिस, हत्या के प्रयास मामले में कर रही पूछताछ

जागरण संवाददाता, जालंधर। जालंधर में बीते शनिवार को गोराया में सीआईए स्टाफ टू द्वारा एक अवैध पिस्टल और पांच कारतूस के साथ गिरफ्तार किए गए सोनू रूड़का और राजन पंडित का रिमांड पूरा होने के बाद हत्या के प्रयास के मामले में बिलगा पुलिस आरोपितों को प्रोडक्शन रिमांड पर लेकर आई है। मामले में गिरफ्तार आरोपितों से करीब छह महीने पहले हुए किसान अमरजीत पर हमले के बारे में पूछताछ की जा रही है। मामले में पूछताछ के दौरान वारदात में शामिल अन्य आरोपितों के विषय में अहम सुराग हाथ लगे हैं। जिसके बाद पुलिस मामले में शामिल अन्य आरोपितों के ठिकानों पर भी छापेमारी कर रही है।

छापामारी के दौरान आरोपित अपने ठिकानों पर नहीं मिले। वहीं पुलिस दोनों ही आरोपितों के मोबाइल की फारेंसिक रिपोर्ट का भी इंतजार कर रही है। जिससे इस बात का पता लगाया जा सके कि आरोपित इंटरनेट कालिंग के जरिए किन-किन लोगों से बात करते थे। दरअसल छह महीने पहले बिलगा थाना क्षेत्र के खोखेवाल निवासी किसान अमरजीत पर पुराने विवाद को लेकर धारदार हथियारों से हमला किया था और उसे बुरी तरह से पिटने के बाद मरा समझकर उसे खेतों में फेंककर फरार हो गए थे। मामले में ग्रामीणों ने घायल अमरजीत को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया था।

घायल अमरजीत के बयानों के आधार पर पुलिस ने राजन पंडित और उसके अज्ञात साथियों के खिलाफ केस हत्या के प्रयास और अन्य धाराओं में दर्ज कर लिया था। मामले में कुछ दिनों की जांच के बाद पुलिस ने मामले में सोनू को भी शामिल किया था। इसके साथ ही आरोपितों के काल डिटेल की भी जांच की जा रही है। काल डिटेल की जांच में पुलिस के हाथ कई संदिग्ध नंबर मिले हैं जिनकी जांच की जा रही है।