पंजाब में अमृतसर के गुरु नानक देव अस्पताल में ऑक्सीजन खत्म, तड़पने लगे मरीज, मची अफरा-तफरी

अमृतसर के गुरु नानक देव अस्‍पताल में ऑक्‍सीजन की कमी हो गई। (जागरण)

पंजाब में अमृतसर के गुरु नानक देव अस्‍पताल में आज सुबह ऑक्‍सीजन समाप्‍त हो गया। मरीज ऑक्‍सीजन पर्याप्‍त मात्रा में नहीं मिलने के कारण तड़पने लगे। इससे अस्‍पताल में अफरा-तफरी मच गई। बाद में एक निजी कंपनी से ऑक्‍सीजन सिलेंडर मंगाए गए।

Sunil Kumar JhaMon, 19 Apr 2021 09:14 AM (IST)

अमृतसर, जेएनएन। यहां गुरु नानक देव अस्पताल में आज सुबह अचानक अफरा-तफरी मच गई। अस्‍पताल में ऑक्सीजन खत्म हो गई।  अस्पताल में 140 से अधिक कोरोना संक्रमित मरीज उपचाराधीन है। ऑक्सीजन सपोर्ट पर लगाए गए मरीजों को बहुत कम मात्रा में ऑक्सीजन मिलने लगी, जिससे वे तड़पने लगे। आपातकालीन स्थिति में एक निजी कंपनी से आग्रह कर सिलेंडर मंगवाए गए और इनके जरिए आपूर्ति की गई। इसके बाद हालात सुधरे और मरीजों को राहत मिली।

सुबह 6:00 बजे ऑक्सीजन सिलेंडर हो गए खत्म

घटना सुबह 6:00 बजे की है। कोरोना वार्ड में मरीजों को ऑक्सीजन स्पोर्ट पर रखा गया था। अचानक मरीजों की सांस फूलने लगी। इससे उनके परिजन डर गए। इस बात की जानकारी नर्सिंग स्टाफ को दी गई। नर्सिंग स्टाफ ने ऑक्सीजन का फ्लो मीटर चेक किया तो इसमें 40 प्रतिशत ऑक्सीजन पहुंच रही थी। इसके बाद ऑक्सीजन प्लांट में चेक किया गया तो पता चला कि सिलेंडर खत्म हो चुके हैं। अस्पताल में प्रतिदिन 1200 सिलेंडर की खपत हो रही है। बीते रविवार को डेढ़ सौ सिलेंडर आए थे। अगली सप्लाई भी रविवार को ही आनी थी, लेकिन यह पहुंची नहीं। इस कारण ऑक्सीजन की किल्लत हुई।

यहां बताना जरूरी है कि पिछले वीरवार को कोरोना वॉर्ड में कार्यरत नर्सिंग स्टाफ ने ऑक्सीजन का फ्लो मीटर गलत लगा दिया था, जिस वजह से भी मरीजों को ऑक्सीजन की आपूर्ति कम मिलने लगी थी। आज की घटना के बाद अस्पताल प्रशासन मौके पर पहुंचा। डॉक्टरों ने स्थिति का जायजा लिया, लेकिन अभी इस बारे में बात करने से इन्‍कार कर रहे हैं।

अस्पताल में हिमाचल प्रदेश से लिक्विड गैस की सप्लाई होती रही है, लेकिन इन दिनों यह बंद है। लिक्विड गैस को प्लांट में डालकर इसे ऑक्सीजन में परिवर्तित किया जाता था। सप्लाई बंद होने की वजह से अब अस्पताल प्रशासन को ऑक्सीजन से भरे सिलेंडर खरीद कर आपूर्ति कर रहा है। बरहाल इस मामले में अभी किसकी लापरवाही तय होती है यह कुछ समय बाद पता चलेगा लेकिन यह तय है कि यदि इस प्रकार की लापरवाही मरीजों के लिए प्राणघातक सिद्ध हो सकती है।


यह भी पढ़ें: एक घर में दीवार खिंची तो टूट गया हरियाणा-पंजाब का कनेक्‍शन, आपस में झरोखे से बात कर रही सास-बहू

 

हरियाणा की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

पंजाब की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.