जालंधर में सीवरेज सफाई में गड़बड़ी की जांच के आदेश, मेयर ने तीन दिन में मांगी रिपोर्ट

जालंधर में मेयर जगदीश राज राजा ने काला संघिया रोड पर सीवरेज लाइन की सुपर सक्शन मशीन से सफाई में गड़बड़ी की जांच के आदेश दे दिए हैं। सफाई दौरान यह सामने आया है कि ठेकेदार के मुलाजिम एक मैनहोल से गार निकाल कर दूसरे मैनहोल में डाल रहे थे।

Vinay KumarTue, 22 Jun 2021 09:51 AM (IST)
जालंधर में मेयर ने सीवरेज सफाई में गड़बड़ी की जांच के आदेश दिए हैं।

जालंधर, जेएनएन। मेयर जगदीश राज राजा ने काला संघिया रोड पर सीवरेज लाइन की सुपर सक्शन मशीन से सफाई में गड़बड़ी की जांच के आदेश दे दिए हैं। मेयर ने इस मामले में तीन दिन में रिपोर्ट मांगी है। निगम कमिश्नर को लिखित निर्देश में मेयर राजा ने कहा है कि काला संघिया रोड पर सुपर सक्शन मशीन से सीवरेज की सफाई के दौरान यह सामने आया है कि ठेकेदार के मुलाजिम एक मैनहोल से गार निकाल कर दूसरे मैनहोल में डाल रहे थे। इस गड़बड़ी को पार्षद वरेश मिंटू और पार्षद पति प्रभुदयाल ने मौके पर ही पकड़ लिया। मेयर ने कहा कि इसके लिए जो भी मुलाजिम जिम्मेवार हैं उस पर कार्रवाई तय की जाए और ठेकेदार पर भी एक्शन हो।

मेयर ने बीएमसी चौक से कूल रोड पर पानी की लीकेज से सड़क को नुकसान के मामले में भी सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। मेयर ने कमिश्नर को लिखा है कि वाटर सप्लाई पाइप लाइन में लीकेज की शिकायत कई बार आई। मेयर आफिस से एसडीओ भाग इंदर सिंह को कई बार इसे ठीक करने के निर्देश दिए गए, लेकिन एसडीओ ने एक्शन नहीं लिया। उन्होंने कहा कि पानी की लीकेज को तुरंत बंद करवाया जाए और एसडीओ भाग इंदर ङ्क्षसह और जो अन्य मुलाजिम इसके लिए जिम्मेदार हैं उन पर सख्त कार्रवाई की जाए। इसकी रिपोर्ट तीन दिन में उन्हें सौंपी जाए।

एफएंडसीसी मीटिंग : एक ही तरह के काम पर 31 प्रतिशत के अंतर पर मेयर ने दो टेंडर रोके

नगर निगम की फाइनांस एंड कांट्रैक्ट कमेटी की मीटिंग में मेयर जगदीश राज राजा ने विकास कार्य के दो टेंडरों को रद कर दिया है, जबकि दो टेंडर लंबित किए हैं। मीटिंग में 2.74 करोड़ रुपये के कार्यों के टेंडर मंजूर किए जाने थे, लेकिन 1.78 करोड़ के काम पास हुए हैं। मेयर ने लक्ष्मी कोआपरेटिव सोसायटी के दो टेंडरों को लंबित किया है। इस सोसायटी ने मधुबन कालोनी में इंटरलाकिंग टाइल्स सड़क के निर्माण का ठेका 33.33 प्रतिशत लैस पर लिया है, जबकि बस स्टैंड के पास ग्लासी जंक्शन के सामने पार्किंग प्लेस के निर्माण का ठेका सिर्फ 2.11 प्रतिशत लैस पर भरा था। मेयर ने कहा कि दोनों ही काम एक तरह के हैं। ऐसे में एक काम पर 33.33 प्रतिशत लैस और एक पर सिर्फ 2.11 प्रतिशत लैस दिया है।

मेयर ने वार्ड नंबर दो के गुरु अमरदास नगर पार्क की रेनोवेशन के एस्टीमेट में संशोधन का प्रस्ताव भी रद कर दिया है। मेयर ने कहा कि यह काम साल 2019 में जारी किया गया था, लेकिन इसे 2021 में क्यों किया जा रहा है? मेयर ने एस्टीमेट में संशोधन करके बढ़ाने का प्रस्ताव रद कर दिया। इसी तरह वार्ड नंबर 53 के बिक्रमपुरा में सड़क निर्माण का टेंडर भी रद कर दिया है। ठेकेदार ने टेंडर पर 3.11 लैस दिया था, लेकिन निगम 10 प्रतिशत की मांग कर रहा था। सीनियर डिप्टी मेयर सुरिंदर कौर, डिप्टी मेयर हरसिमरनजीत सिंह बंटी, मेंबर गुरविंदर सिंह बंटी नीलकंठ व ज्ञानचंद की मौजूदगी में इंडस्ट्रियल एस्टेट, बूटा मंडी, प्रताप बाग, वार्ड नंबर 60 की मेन रोड, नार्थ हलके में लेबर और मिस्त्री आउटसोर्स पर रखने, सुपर सक्शन मशीन से सफाई, एलईडी लाइट समेत अन्य काम मंजूर कर लिए।

दो जोन के काम के लिए एक ही सुपर सक्शन मशीन के कागज जमा करवाए, ठेकेदार पर कार्रवाई होगी

पिछली फाइनांस एंड कांट्रैक्ट कमेटी की मीटिंग में सुपर सक्शन मशीन से सफाई का ठेका देने का करीब 50 लाख का टेंडर भरने वाली कंपनी के खिलाफ कार्रवाई के आदेश दिए गए हैं। ठेकेदार ने दो जोन के काम के लिए एक ही सुपर सक्शन मशीन के कागज जमा करवाए थे। दोनों जोन में काम के लिए दो गाडिय़ां चाहिए थी, लेकिन ठेकेदार ने दोनों काम के लिए एक ही गाड़ी की दो जगह आरसी जमा करवा दी। कमेटी के मेंबर पार्षद गुरविंदर सिंह बंटी नीलकंठ ने इस गड़बड़ी को पकड़ लिया और प्रस्ताव को पेंडिंग कर दिया था। अब जांच के बाद ठेकेदार के खिलाफ कार्रवाई की तैयारी की गई है।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.