आनलाइन स्टडी हुई आसान, दूरदर्शन चैनल पर फिर से कक्षाएं शुरू

आनलाइन स्टडी हुई आसान, दूरदर्शन चैनल पर फिर से कक्षाएं शुरू

कोविड-19 के चलते बंद पड़े स्कूलों के विद्यार्थियों के लिए दूरदर्शन टीवी चैनल पर एक बार फिर से आनलाइन क्लासें शुरू हो गई।

JagranThu, 06 May 2021 07:01 AM (IST)

जासं, जालंधर : कोविड-19 के चलते बंद पड़े स्कूलों के विद्यार्थियों के लिए दूरदर्शन टीवी चैनल पर एक बार फिर से आनलाइन क्लासें शुरू हो गई। इसका फायदा पहली से 12वीं कक्षा के सरकारी व एडिड स्कूलों के विद्यार्थियों ने उठाया। शिक्षा विभाग विभिन्न क्लासों के हिसाब से शेड्यूल सरकारी और एडिड स्कूलों को भेज भी रहा है। विद्यार्थी भी क्लास अटेंड करते हुए की तस्वीरें शिक्षकों से साझा कर रहे है। गौर हो की बीते वर्ष भी कक्षाओं की समयसारिणी पहले जारी न किए जाने की वजह से कुछ कमियां रह गई थी। इसी वजह से अब विभाग पहले से शेड्यूल व कक्षा का टापिक साझा कर रहा है। बुधवार को पहल कक्षा सुबह नौ से 10.38 तक प्राइमरी, 10.40 से सेकेंडरी वर्ग की लगाई गई। इन क्लासों के दौरान विद्यार्थियों को होमवर्क भी दिया गया, ताकि वे रिवीजन करते रहें।

जिला शिक्षा अधिकारी सेकेंडरी हरिदरपाल सिंह ने बताया कि इंटरनेट सर्विस किन्हीं क्षेत्रों में खराब होने की वजह से विद्यार्थियों को आनलाइन पढ़ाई करने में समस्या आ रही थी। बीपीईओ नरेश कुमार ने कहा कि शिक्षक विद्यार्थियों को हर तरीके से शिक्षित करने के लिए सेवाएं दे रहे हैं और अब दूरदर्शन प्रोग्रामों के जरिये वे ज्ञान बांट रहे हैं।

सरकारी स्कूल ढड्ढा के प्रिसिपल दिनेश कुमार कहते हैं कि पिछली बार आनलाइन क्लासों के जरिये हरसंभव प्रयास किया गया था। ऐसे में एक साल का आनलाइन क्लासों को तजुर्बा होने से शिक्षक दोगुने उत्साह के साथ विद्यार्थियों को पढ़ा रहे हैं। अभिभावक भी दिखे संतुष्ट, कहा-सालों बाद घर में दूरदर्शन चला

अभिभावक रतन सिंह ने कहा कि बेटा नौवीं का छात्र है। अच्छा लगा कि विभाग ने समय रहते ही टीवी पर शुरू होने वाली क्लासों का शेड्यूल भेज दिया। निशा शर्मा का कहना है कि बेटी महक प्राइमरी स्कूल शेखे में पढ़ती है। आनलाइन क्लास लगाने में इंटरनेट की समस्या रहती थी, दूरदर्शन क्लास ज्यादा अच्छी रही। सरकारी हाई स्कूल किशनपुरा से छठी कक्षा के छात्र गुरफतेह के दादा हरभजन सिंह कहते हैं कि दूरदर्शन पर लगी क्लास अच्छी थी। पोता एक दिन पहले ही क्लास लगाने की तैयारी में जुट गया था। चैनल नंबर भी एक दिन पहले ही ढूंढ लिया। उसने दीवार पर क्लासों को शेड्यूल भी लगा लिया। कई सालों बाद घर में दूरदर्शन चैनल की झलक दिखी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.