दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

पंजाब में सप्ताहिक कर्फ्यू के चलते सीमित रही बसों की संख्या, निजी बस ऑपरेटर बसें चलाने से कर रहे गुरेज

पंजाब में सप्ताहिक कर्फ्यू के चलते बसों की संख्या रही कम।

पंजाब में साप्ताहिक कर्फ्यू के चलते शनिवार को यात्री बसों की संख्या बेहद कम रह। स्थानीय निजी बस ऑपरेटरों की तरफ से बस संचालन से गुरेज किया। जालंधर के शहीद ए आजम भगत सिंह इंटरस्टेट बस टर्मिनल के ऊपर यात्रियों की कमी के चलते सन्नाटा ही पसरा रह।

Vinay KumarSat, 15 May 2021 02:17 PM (IST)

जालंधर [मनुपाल शर्मा]। पंजाब में साप्ताहिक कर्फ्यू के चलते शनिवार को संचालित होने वाली यात्री बसों की संख्या बेहद कम रही है। अधिकतर स्थानीय निजी बस ऑपरेटरों की तरफ से बस संचालन से गुरेज किया गया है, जबकि पंजाब रोडवेज एवं पेप्सू रोड ट्रांसपोर्ट कारपोरेशन (पीआरटीसी) की तरफ से भी लगभग 30 फीसद बसों का ही संचालन किया जा रहा है। प्रदेश भर में इंटर स्टेट बसों का संचालन पहले ही बंद किया जा चुका है। मात्र प्रदेश के भीतर ही एक शहर से दूसरे शहर तक की बसों का संचालन जारी है।

यह भी पढ़ें-  RL Bhatia Passed Away: 1984 के सिख दंगों में जीत दर्ज कर बचाई थी कांग्रेस की साख, बाद में नवजोत सिंह सिद्धू से खाई मात

ग्रामीण क्षेत्रों की बस सेवा है तो बेहद कम संख्या में संचालित हो रही है। साप्ताहिक कर्फ्यू के चलते यात्रियों की संख्या भी भारी कम हुई है, जिस वजह से बस संचालन भी बुरी तरह से प्रभावित है। जालंधर के शहीद ए आजम भगत सिंह इंटरस्टेट बस टर्मिनल के ऊपर यात्रियों की कमी के चलते सन्नाटा ही पसरा रहा और लगभग 30 फीसद काउंटरों के ऊपर ही बसें खड़ी नजर आईं। शुक्रवार को भी सरकारी छुट्टी होने के चलते यात्रियों की संख्या में कमी आई थी और वीकेंड तीन दिन का होने के चलते वीरवार को बसों में अन्य दिनों की तुलना में यात्रियों की भीड़ ज्यादा उमड़ी थी। निजी बस ऑपरेटरों का तर्क है कि यात्रियों की संख्या बेहद कम होने के चलते शनिवार एवं रविवार को तो डीजल का खर्च भी नहीं निकल पाता है। इस कारण बसों का संचालन नहीं किया जाता है।

यह भी पढ़ें- Ludhiana Black Fungus ALERT! लुधियाना में ब्लैक फंगस, चपेट में आए कोरोना को मात देने वाले 20 लोग, कुछ की आंखें व जबड़े निकाले

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.