Jalandhar GymKhana Club Polls: पांच दिसंबर से नामांकन शुरू, धीरज सेठ चुनाव से कर सकते हैं किनारा

जिमखाना क्लब चुनाव के लिए 5 दिसंबर ने नामांकन शुरू हो जाएंगे। एचीवर्स ग्रुप व प्रोग्रेसिव ग्रुप के साथ-साथ तीसरे ग्रुप की भी सुगबुगाहट शुरु हो चुकी है। फिलहाल अभी किसी ग्रुप ने उम्मीदवार मैदान में नहीं उतारे है। पांच दिसंबर को नामांकन के बाद 11 दिसंबर को स्क्रूटिंग होगी।

Pankaj DwivediFri, 03 Dec 2021 01:58 PM (IST)
क्लब के पूर्ष कोषाध्यक्ष धीरज सेठ की फाइल फोटो।

कमल किशोर, जालंधर। जिमखाना क्लब चुनाव को लेकर सरगर्मियां तेज हो चुकी है। 5 दिसंबर ने नामांकन शुरु हो जाएंगे। एचीवर्स ग्रुप व प्रोग्रेसिव ग्रुप के साथ-साथ तीसरे ग्रुप की भी सुगबुगाहट शुरु हो चुकी है। फिलहाल अभी किसी ग्रुप ने उम्मीदवार मैदान में नहीं उतारे है। पांच दिसंबर को नामांकन के बाद 11 दिसंबर को स्क्रूटिंग होगी। 13 तक नाम वापस लिए जाएंगे। 18 दिसंबर सुबह 8 बजे तक प्रचार रुक जाएगा। 19 दिसंबर को सुबह आठ से शाम पांच बजे तक मतदान होगा। 3778 सदस्य 14 कमेटी का गठन करेंगे। शाम छह बजे बाद मतगणना शुरु हो जाएगी।

फिलहाल, अभी एचीवर्स ग्रुप के सचिव पद के उम्मीदवार पर पेंच फंसा हुआ है। क्लब के पूर्ष कोषाध्यक्ष धीरज सेठ अब चुनाव से किनारा करने की सोच रहे है। जिससे क्लब के चुनावी समीकरण पर गहरा असर पड़ेगा। पिछले चुनाव में एचीवर्स ग्रुप को सचिव पद उम्मीदवार लड़ने की बजाए तरुण सिक्का को लड़वा दिया था। अचीर्स ने वर्ष 2021 के चुनाव में सचिव पद पर उतारने की घोषणा की थी। धीरज सेठ चुनाव से किनारा करते है तो गोरा ग्रुप सक्रिय हो सकता है। चुनाव रोचक होने की संभावना है। चर्चा है कि धीरज सेठ पिछले चुनाव में एचीवर्स द्वारा कमिटमेंट का हवाला दे रहे है।

इंटरनेट मीडिया पर कर रहे है प्रचार

जिमखाना क्लब के कार्यकारिणी सदस्यों की बात करें तो दावेदारों ने इंटरनेट मीडिया पर प्रचार करना शुरू कर दिया है। कार्यकारिणी सदस्य जगजीत कंबोज ने अपने हक में प्रचार करने में आगे दिख रहे हैं। पिछले वर्ष क्लब के चुनाव में जगजीत कंबोज ने कार्यकारिणी सदस्य के तौर पर जीत दर्ज की थी। कार्यकारिणी सदस्य नितिन बहल ने भी अपने हक में चुनाव प्रचार करने के लिए इंटरनेट मीडिया का सहारा लिया है। जगजीत कंबोज इस बार भी एचीवर्स ग्रुप से कार्यकारिणी पद के चुनाव पर लड़ेंगे।

सचिव पद के चेहरे पर फंसा पेंच

सचिव पद के चेहरे पर इस ग्रुप में पेंच फंसा हुआ है। एचीवर्स ग्रुप से सचिव पद पर चुनाव लड़ने पर तरुण सिक्का व धीरज सेठ का नाम सामने आ रहा है। इन दोनों में से एक के नाम पर मुहर खेल इंडस्ट्री के दिग्गज लगाएंगे। अगर खेल दिग्गज व एचीवर्स ग्रुप के तरुण सिक्का को सचिव पद पर चुनाव लड़वाते हैं तो धीरज सेठ ग्रुप से अलग होने व अलग ग्रुप तैयार करने की कवायद शुरु करने की चर्चा हो रही है। पिछले चुनावों में एचीवर्स ग्रुप व खेल दिग्गज ने धीरज सेठ को कमिटमेंट की थी कि इस बार सचिव पद पर चुनाव लड़वाया जाएगा। फिलहाल अभी उम्मीदवार अंदर खाते पुराने सदस्यों से मिल रहे है। प्रोग्रेसिव ग्रुप कवायद तेज होती है तीसरा ग्रुप के रूप में सामने आ सकता है, जिसमें गुलशन शर्मा सचिव पद का चुनाव लड़ने की बात सामने आ रही है।

सुमित शर्मा को मिला खेल दिग्गज का आश्वासन

एचीवर्स ग्रुप से कार्यकारिणी सदस्य सुमित शर्मा को इस बार चुनाव में वाइस प्रेसीडेंट पद पर लड़ने का आश्वासन खेल दिग्गज से मिल चुका है। चर्चा है कि सुमित शर्मा को वाइस प्रेसीडेंट पद पर चुनाव नहीं लड़वाया जाता तो वह आजाद के तौर पर सचिव का चुनाव लड़ेंगे। किसी ग्रुप में शामिल नहीं होंगे। सुमित शर्मा को खेल इंडस्ट्री के साथ-साथ कई कार्यकारिणी सदस्य समर्थन देने की बात सामने आ रही है।

एक अन्य ग्रुप बनने की कवायद शुरू

क्लब के चुनाव में एक ओर अन्य ग्रुप तैयार होने की कवायद शुरू हो चुकी है। इस ग्रुप में कुकी बहल सचिव, कुकी शर्मा वाइस प्रेसीडेंट, मेजर कोछड़ कोषाध्यक्ष व अनु माटा संयुक्त सचिव पद पर चुनाव लड़ने की बात सामने आ रही है। फिलहाल ग्रुप तैयारी में है।

राजू विर्क सचिव पद पर लड़ने की चर्चा

एचीवर्स ग्रुप से दो बार वाइस प्रेसीडेंट रह चुके राजू विर्क भी सचिव पद पर चुनाव लड़ने की बात कह चुके है। यह किस ग्रुप से उम्मीदवार खड़े होते या फिर आजाद खड़े होते है यह आने वाला समय बताएगा। राजू विर्क एचीवर्स ग्रुप से दो बार वाइस प्रेसीडेंट रह चुके है। क्लब के संविधान के मुताबिक कोई सदस्य दो बार से अधिक एक पद पर चुनाव नहीं लड़ सकता है।

एचीवर्स ग्रुप की अंदरखाते हुई बैठक, चेहरों पर लगी मुहर

एचीवर्स ग्रुप की अंदरखाते बीते सोमवार देर शाम बैठक होने की बात सामने आ रही है। बैठक में खेल दिग्गज मौजूद थे। तरुण सिक्का को सचिव पद, वाइस प्रेसीडेंट पर सुमित शर्मा, सौरभ खुल्लर संयुक्त सचिव व कोषाध्यक्ष पद पर अमित कुकरेजा को चुनाव लड़वाने की बात सामने आ रही है। फिलहाल, अभी क्लब में चर्चाओं का बाजार गर्म है। इन चेहरों को चुनाव लड़वाएं जाने में कितनी सच्चाई है यह आने वाला समय बताएगा।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.