सिर्फ एक हफ्ता बन पाएंगी लुक-बजरी की सड़क

बढ़ती ठंड के कारण लुक और बजरी की सड़कों का निर्माण एक हफ्ते से ज्यादा नहीं चल पाएगा। ऐसे में विधानसभा चुनाव 2022 में कांग्रेस के उम्मीदवारों के लिए दिक्कत खड़ी हो सकती है।

JagranPublish:Sat, 04 Dec 2021 01:01 AM (IST) Updated:Sat, 04 Dec 2021 01:01 AM (IST)
सिर्फ एक हफ्ता बन पाएंगी लुक-बजरी की सड़क
सिर्फ एक हफ्ता बन पाएंगी लुक-बजरी की सड़क

जागरण संवाददाता, जालंधर : बढ़ती ठंड के कारण लुक और बजरी की सड़कों का निर्माण एक हफ्ते से ज्यादा नहीं चल पाएगा। ऐसे में विधानसभा चुनाव 2022 में कांग्रेस के उम्मीदवारों के लिए दिक्कत खड़ी हो सकती है। वैसे तो अभी करीब 200 सड़कों का निर्माण होना है लेकिन लुक और बजरी की सड़कें 20 डिग्री तापमान से कम पर नहीं बन पाएंगी।

20 डिग्री तापमान भी दिन में सिर्फ चार या पांच घंटे ही रह रहा है। ऐसे में नगर निगम लुक और बजरी की ज्यादा सड़कें नहीं बना पाएगा। अभी भी लुक-बजरी की करीब 100 सड़कों का निर्माण किया जाना है और अगर ठेकेदार पूरा जोर भी लगा ले तो 20 से 25 सड़कें ही बनाई जा सकेंगी। नगर निगम के ठेकेदारों के पास ऐसी तकनीक नहीं है जिसमें पांच से दस डिग्री तापमान पर भी सड़कों का निर्माण किया जा सके। इसी वजह से 15 दिसंबर तक हाट मिक्सिंग प्लांट बंद हो जाते हैं और फिर अप्रैल में ही दोबारा काम शुरू होता है। पंजाब में विधानसभा चुनाव के लिए जनवरी के पहले सप्ताह तक आचार संहिता लागू हो जाने की उम्मीद है। ऐसे में नगर निगम के लिए कंक्रीट सड़कों के नए काम भी शुरू करवाना मुश्किल रहेगा। एसई रजनीश डोगरा का कहना है कि जिस तरह से ठंड बढ़ रही है उससे हाट मिक्सिंग प्लांट एक सप्ताह ही चल पाएंगे।

----- सरफेस वाटर प्रोजेक्ट के लिए तोड़ी सड़कों से बढ़ेगी परेशानी

नगर निगम और स्मार्ट सिटी कंपनी के सरफेस वाटर प्रोजेक्ट के लिए शहर की कई प्रमुख सड़कों को तोड़ा गया है। हालांकि अब ज्यादातर जगह पर पाइपलाइन बिछाने का काम रोक दिया गया है लेकिन जिन इलाकों में सड़कें तोड़ी गई हैं वह चुनाव से पहले बनानी मुश्किल होंगी। इनमें नकोदर रोड, कपूरथला रोड, डीएवी कॉलेज रोड, रामा मंडी से ढिलवां रोड, गाजी गुल्ला रोड के काम प्रमुख हैं। यह सड़कें अति व्यस्त मानी जाती हैं और अगर इनका निर्माण नहीं होता है तो चुनाव से पहले कांग्रेसी को परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। ---------

कम तापमान में सड़कें बनाने की तकनीक से काम नहीं

नगर निगम के ठेकेदारों के पास हॉट मिक्सिग प्लांट की जो तकनीक हैं वह 20 डिग्री से ज्यादा तापमान पर ही काम करती हैं। ऐसे में सर्दियों में सड़क बनाना संभव नहीं है। कम तापमान में सड़क बनाने की मशीनरी काफी महंगी और निगम के लिए कम बजट के कारण ऐसी तकनीक का इस्तेमाल करना भी आसान नहीं है।

- सुमन अग्रवाल, कांट्रैक्टर

------