NEET Exam 2021 : जालंधर में परीक्षा केंद्रों के बाहर लगी भीड़, हाफ शर्ट व स्लिपर डाल पहुंचे छात्र

एनटीए की तरफ से करेक्शन विंडो को परीक्षा से पहले तक खुला रखा हुआ है। अगर कोई गलती है तो उसे समय रहते ही सुधार कर नया एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं। परीक्षा शुरू होने से पहले तक इसमें सुधार किया जा सकता है।

Vinay KumarSun, 12 Sep 2021 09:07 AM (IST)
जालंधर में नीट परीक्षा को लेकर केंद्रों के बाहर लगी भीड़।

जागरण संवाददाता, जालंधर। जालंधर में नीट यूजी की परीक्षा को लेकर विद्यार्थी परीक्षा केंद्रों के बाहर बड़ी तादाद में पहुंचने शुरू हो गए हैं। उनके साथ-साथ उनके अभिभावक ही होने की वजह से जाम की स्थिति भी निरंतर बनती जा रही है क्योंकि अधिकतर अभिभावक वाहनों में आए हुए हैं और उनके वाहन भी सड़क पर ही पार्क हुए हैं। फिलहाल विद्यार्थियों की परीक्षा केंद्र में एंट्री शुरू नहीं हुई है। अधिकतर विद्यार्थी हाफ स्लीव और स्लिपर डालकर ही पहुंचे हैं मगर इनमें कुछ ऐसे भी हैं जो परीक्षा के केंद्र के बाहर बूट डालकर ही आए हैं जिन्हें गेट पर ही बार-बार बूट उतार कर ही आने के लिए कहा जा रहा है।

वहीं परीक्षा केंद्र में जाने से पहले विद्यार्थियों को रजिस्ट्रेशन फॉर्म और एडमिट कार्ड में गलतियों चेक करने के लिए कहा गया था। एनटीए ने कहा था कि क्योंकि अगर गलती हुई तो उन्हें परीक्षा केंद्र में एंट्री नहीं मिलेगी। एनटीए की तरफ से करेक्शन विंडो को परीक्षा से पहले तक खुला रखा हुआ है। अगर कोई गलती है तो उसे समय रहते ही सुधार कर नया एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं। कार्ड हार्ड कापी के रूप में नहीं भेजे जाने की वजह से ही परीक्षा शुरू होने से पहले तक इसमें सुधार किया जा सकता है। इसके अलावा एनटीए की परीक्षा को लेकर जारी की गई हिदायत का अवश्य ध्यान रखें। परीक्षा दोपहर दो से पांच बजे तक होगी और विद्यार्थियों को डेढ़ से दो घंटे पहले आना होगा, क्योंकि सेंटरों के चेंकिंग की प्रक्रिया से भी उन्हें गुजरना होगा।

यहां बनाए गए केंद्र

परीक्षा को लेकर एनटीए की तरफ से जालंधर में एपीजे स्कूल, पुलिस डीएवी स्कूल, एमजीएन अर्बन स्टेट, हंसराज महिला विद्यालय, जालंधर कैंट के 2 केंद्रीय विद्यालय, आदमपुर के एमआर इंटरनेशनल स्कूल सहित सात परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। जिनमें करीब 4900 विद्यार्थी बैठेंगे। इनमें जालंधर ही नहीं फगवाड़ा, कपूरथला, होशियारपुर आदि जिलों के विद्यार्थी भी शामिल है। परीक्षा को लेकर एडमिट कार्ड पर हिदायतें भी जारी कर दी गई हैं और एनटीए की तरफ से अलग से भी गाइडलाइंस जारी की गई हैं। विद्यार्थियों को यही सलाह दी गई हैं कि वे हिदायतों का पूरी तरह से पालन करें, ताकि उन्हें किसी प्रकार से भी परीक्षा में कोई दिक्कत न आए। इसे लेकर उन्हें ड्रेस कोड का भी ध्यान रखना होगा। कहीं भी गाइडलाइंस की कमी दिखी, तो विद्यार्थी के परीक्षा केंद्र में प्रवेश को लेकर दिक्कतें खड़ी कर सकती हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.