अमृतसर में दहेज की मांग को लेकर किया परेशान, विवाहिता ने जहर निगल दी जान

अमृतसर के अजनाला थाना के अधीन पड़ते पोयवाली गांव में एक विवाहिता ने पति से दुखी होकर आत्महत्या कर ली।

अमृतसर के अजनाला थाना के अधीन पड़ते पोयवाली गांव में एक विवाहिता ने पति से दुखी होकर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पति विलियम के खिलाफ आत्महत्या को उकसाने के आरोप में केस दर्ज कर लिया है।

Rohit KumarTue, 02 Mar 2021 02:08 PM (IST)

अमृतसर, जेएनएन। अजनाला थाना के अधीन पड़ते पोयवाली गांव में एक विवाहिता ने पति से दुखी होकर आत्महत्या कर ली। आरोप है कि पति उसे दहेज के लिए प्रताड़ित करता था। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव कब्जे में ले लिया है और पति विलियम के खिलाफ आत्महत्या को उकसाने के आरोप में केस दर्ज कर लिया है।

पीड़ित परिवार ने बताया कि 2014 में उन्होंने ममता की शादी विलियम के साथ की थी। शादी में मांग के अनुसार दहेज भी दिया गया था। लेकिन शादी के बाद विलियम ने ममता को दहेज लाने के लिए तंग परेशान करना शुरू कर दिया। सोमवार को ममता ने जहरीला पदार्थ निगल कर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने पीड़ित परिवार के बयान के आधार पर केस दर्ज करके आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है। 

नशे के लिए पत्नी से झगड़ ले गया दो हजार रुपये, श्मशानघाट में मिला शव

तरनतारन।  नशे के कारण जिले में युवाओं की मौतों का सिलसिला लगातार जारी है। रविवार की रात को पत्नी से झगड़कर दो हजार रुपये लेकर घर से गए तीन बच्चों के पिता हरदेव सिंह का गांव सरहाली कलां के श्मशानघाट से शव बरामद हुआ। अज्ञात लोगों के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। यह केस हरदेव सिंह की पत्नी के बयान पर दर्ज किया गया है।

विधानसभा हलका पट्टी के गांव सरहाली निवासी हरदेव सिंह मजदूरी करता था। जो कुछ समय से नशे का आदी बन गया। उसकी पत्नी धर्मजीत कौर ने बताया कि दो लड़कों व एक लड़की की पढ़ाई का वास्ता देकर हरदेव सिंह को कई बार नशे से तौबा करने लिए कहा। परंतु वह नहीं माना। नशे की पूर्ति के लिए हरदेव सिंह पत्नी से झगड़ाकर पैसे ले जाता था। रविवार की रात को धर्मजीत कौर से दो हजार रुपये लेकर कहीं चला गया। रात भर वापस नहीं आने पर परिवार ने पुलिस को शिकायत दी। इस दौरान गांव के श्मशानघाट में हरदेव सिंह का शव बरामद हुआ। उसकी बाजू में नशे का टीका लगा था।

नशे से हरदेव सिंह का शरीर नीला पड़ा था। थाना सरहाली कलां के प्रभारी इंस्पेक्टर हरिंदर सिंह, ड्यूटी अफसर एसआइ सलवंत सिंह ने मौके पर जाकर हरदेव सिंह का शव कब्जे में लिया। धर्मजीत कौर ने बयान दर्ज करवाए कि उसके पति को अज्ञात लोगों ने नशा दिया है। इस पर अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआइआर दर्ज करके शव पोस्टमार्टम करवाकर दिया गया है। उल्लेखनीय है कि इससे पहले भी जिले में नशा कई युवाओं की जान ले चुका है मगर सरकार और प्रशासन नशे को खत्म करने के लिए कोई कदम नहीं उठा रहे।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.