JPGA ने राज्य में टिशू कल्चर बेस्ड सीड पटेटो बिल लागू करने के फैसले को सराहा, कहा- बेहतर क्वालिटी की होगी पैदावार

पोटेटो बिल पारित होने पर खुशी जाहिर करते जेपीजीए के सदस्य। (जागरण)
Publish Date:Fri, 23 Oct 2020 03:12 PM (IST) Author: Vikas_Kumar

जालंधर, जेएनएन। जालंधर पोटेटो ग्रोअर्स एसोसिएशन (जेपीजीए) ने पंजाब सरकार द्वारा राज्य में टिशु कल्चर बेस्ट सीड पोटेटो बिल पारित करने के फैसले को सराहा है। इस संबंध में शुक्रवार को आयोजित पत्रकार वार्ता के दौरान एसोसिएशन के प्रधान गिरिराज सिंह निज्जर तथा जगत प्रकाश थमनवाल ने बताया कि इस बिल के लागू होने से राज्य में बेहतर क्वालिटी के सीड की पैदावार और बेहतर हो सकेगी। उन्होंने कहा कि 1998 से लेकर सरकार के समक्ष लगातार इस बिल को लागू करने की मांग उठाई जा रही है। जिसे अब सरकार ने पूरा कर दिया है।

इस दौरान उन्होंने बताया कि पंजाब में चार लाख मैट्रिक टन बीज की पैदावार होती है। अभी तक यह पैदावार पारंपरिक तरीके के साथ की जाती थी। अब बिल के लागू होने से पोटैटो ग्रोअर्स आधुनिक तरीके के साथ बिजाई कर सकेगा। बिल को लागू करने को लेकर बनाई गई कमेटी में एसोसिएशन के पदाधिकारियों के अलावा पंजाब एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी तथा कृषि विभाग के माहिरों को शामिल किया गया था। इस अवसर पर उनके साथ सुखजीत सिंह, प्रितपाल सिंह व अशविंदर सिंह मौजूद थे।

बिल से यह होगा लाभ

पंजाब खासकर दोआबा का पोटैटो सीड देशभर में बेहतर क्वालिटी के लिए जाना जाता है। कुछ कारोबारी अभी तक यूपी व बिहार सहित राज्यों से बीज मंगवा कर उस पर लोकल की मुहर लगाकर बेच रहे हैं। इस बिल के लागू होने के बाद केवल उसी सीड को बिक्री की मंजूरी मिल सकेगी जो निर्धारित मापदंड को पूरा करेगा। इसके अलावा फसली चक्र में खेती-बाड़ी कर रहे जमीदारों को भी तकनीक का लाभ मिल सकेगा।

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.