इंप्रूवमेंट ट्रस्ट पांच जगह प्लॉट और कॉमर्शियल प्रॉपर्टी बेच कमाएगा 100 करोड़ Jalandhar News

जालंधर, जेएनएन। आर्थिक तंगी से गुजर रहे इंप्रूवमेंट ट्रस्ट ने शहर में कुछ साइट्स बेचकर करीब 100 करोड़ रुपये इकट्ठा करने की योजना बनाई है। ट्रस्ट के ट्रस्टियों की मीटिंग में चार स्कीमों की पांच साइट्स में पड़ी करीब 100 करोड़ रुपये की जमीन के सीएलयू बदलने का प्रस्ताव पास कर इसे लोकल बॉडी डिपार्टमेंट को भेजने का फैसला किया है। वहां से मंजूरी के बाद जमीन की नीलामी का काम शुरू होगा। मीटिंग की अध्यक्षता चेयरमैन दलजीत सिंह आहलुवालिया ने की। पास किए गए प्रस्ताव के तहत गुरु अमरदास कॉलोनी की हाइवे के साथ लगती जमीन भी शामिल है जोकि पहले नॉन कंस्ट्रक्शन जोन थी लेकिन अब नियम बदलने के बाद कंस्ट्रक्शन जोन में आ गई है।

इसी तरह शहीद भगत सिंह कॉलोनी में स्कूल की जमीन पर रिहायशी प्लॉट, हाइवे के साथ लगती जमीन पर पेट्रोल पंप, जेपी नगर में थाने वाली जमीन को रिहायशी प्लॉट, सूर्या एन्क्लेव में मल्टी स्टोरी कांप्लेक्स के लिए आरक्षित जमीन को मिक्स लैंड यूज में बदलने का प्रस्ताव पास किया गया है। इंप्रूवमेंट ट्रस्ट के इन प्रस्तावों को अगर लोकल बॉडी डिपार्टमेंट पास कर देता है तो आर्थिक संकट से घिरे ट्रस्ट को राहत मिल सकेगी। ट्रस्ट ने पीएनबी का करीब 112 करोड़ का लोन और किसानों को इन्हासमेंट का करीब 100 करोड़ रुपया देना है। यह जमीनें ऐसी लोकेशन पर हैं जो आसानी से बिक सकती हैं। चेयरमैन ने कहा कि ट्रस्ट की जमीनों को बेहतर तरीके से इस्तेमाल किया जाएगा। जो जमीन खाली पड़ी थी उन्हें बेच कर ट्रस्ट को आर्थिक रूप से मजबूत करेंगे। ट्रस्टियों ने नवंबर में रिटायर हो रहे सीनियर असिस्टेंट मुख्तियार सिंह और ड्राइवर जटराम को कांट्रेक्ट पर रखने का प्रस्ताव भी सरकार को भेजा है।

वेरका मिल्क प्लांट के पास 50 करोड़ की जमीन

स्कीम 51.5 गुरु अमरदास कॉलोनी में हाइवे के साथ लगती 100 मीटर जमीन में से अब 95 मीटर जमीन को इस्तेमाल करेंगे। यह जमीन 5.55 एकड़ है। इस जमीन को मिक्स लैंड यूज के रूप में इस्तेमाल करने का प्रस्ताव सरकार को भेजा गया है। इस जमीन को बेच कर ट्रस्ट को 50 करोड़ रुपए मिल सकते हैं। कभी नॉन कंस्ट्रक्शन जोन के तहत आती इस जमीन में से एक हिस्सा साल 2018 में पेट्रोल पंप के लिए बेचा जा चुका है।

जेपी नगर में थाना गिराकर प्लॉट बेचेंगे

स्कीम 74.33 जेपी नगर में बनी मार्केट को गिरा कर रिहायशी प्लाट बेचने का प्रस्ताव है। फिलहाल इस मार्केट को बस्ती बावा खेल थाने के रूप में इस्तेमाल किया जा रहा है। यह जमीन 3169 वर्ग गज है। यहां पर 30 गुणा 80 फुट के 12 प्लॉट बेचे जाएंगे। ट्रस्ट को इससे 14 करोड़ रुपये की इनकम हो सकती है। जेपी नगर को आंतकवाद के दौर में डवलप किया गया था। तब मार्केट को बेचा नहीं गया था लेकिन इन दुकानों में थाना नंबर पांच खोला गया था। थाना पांच मॉडल हाउस रोड पर शिफ्ट किए जाने के बाद बस्ती बावा खेल थाने को इन दुकानों में शिफ्ट किया गया था। अब इसे खाली करवाया जाएगा।

शहीद भगत सिंह कॉलोनी में स्कूल की जमीन पर कटेंगे प्लॉट

स्कीम 26.8 एकड़ शहीद भगत सिंह कॉलोनी में स्कूल के लिए आरक्षित 7773 वर्ग गज जमीन को अब रेजिडेंशियल प्लॉट के रूप में बेचा जाएगा। 100 गज के 18 और 150 गज के छह प्लॉट बेचने का प्रस्ताव है। स्कूल के लिए कोई भी जमीन लेने को तैयार नहीं हो रहा है। प्लॉट के रूप में बेच कर 5 करोड़ रुपए मिलने की उम्मीद है। इसी स्कीम की हाइवे के साथ लगती नॉन कंस्ट्रक्शन एरिया की जमीन को अब बेचा जा सकेगा। यहां पर पेट्रोल पंप और रेस्टोरेंट के लिए जमीन दी जाएगी। इससे पांच करोड़ रुपए मिलने की उम्मीद है।

सूर्या एन्क्लेव में जमीन बेच कर मिल सकते हैं 60 करोड़

सूर्या एन्क्लेव में मल्टी स्टोरी कांप्लेक्स के लिए आरक्षित 4.60 एकड़ जमीन के लिए भी मिक्स यूज लैंड के रूप में मंजूरी मांगी गई है। यह जमीन ट्रस्ट दो हिस्सों में भी बेच सकता है। खरीदार को यह अधिकार रहेगा कि वह इसे कामर्शियल या रेजिडेंशियल रूप से विकसित कर सके। इसे बेच कर 40 करोड़ तक मिल सकते हैं। 

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.