Weather Update Jalandhar : जालंधर में 7 डिग्री तक पहुंचा न्यूनतम तापमान, डेंगू के तेवर भी पड़ने लगे ठंडे

जालंधर में तापमान साफ रहने के कारण अभी बारिश की संभावना नहीं है। वहीं पहाड़ी क्षेत्रों में बर्फबारी के कारण ठंड अभी और बढ़ेगी। अधिकतम तापमान 25 डिग्री सेल्सियस रहने के अलावा न्यूनतम तापमान के 7 डिग्री तक पहुंचने की संभावना है।

Vinay KumarWed, 24 Nov 2021 09:31 AM (IST)
जालंधर में बुधवार को अधिकतम तापमान 25 तथा न्यूनतम 7 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है ।

जागरण संवाददाता, जालंधर। तापमान का पारा गिरने के साथ साथ ठिठुरन बढ़ रही है। तड़के और रात को तापमान कम होने से ठंड बढ़ जाती है, जबकि दोपहर को मौसम साफ और धूप निकलने से तापमान में इजाफा हो रहा है। तापमान में गिरावट के साथ डेंगू के तेवर भी ठंडे पड़ने लगे है। बुधवार को अधिकतम तापमान 25 तथा न्यूनतम 7 डिग्री सेल्सियस तक रहने की संभावना है ।

वहीं ठंड पड़ने के कारण जिले में डेंगू के मरीजों की संख्या भी कम होने लगी है। जिले में डेंगू के मरीजों का आंकड़ा 603 तक पहुंच गया। मौसम विभाग के अनुसार  रात को तापमान में गिरावट के चलते ठंड से राहत पाने के लिए लोग अलाव जलाने लगे है। माह के अंत तक न्यूनतम तापमान 7 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने की संभावना है। जबकि अधिकतम तापमान 25 डिग्री सेल्सियस तक ही रहेगा।

तापमान साफ रहने की वजह से फिलहाल बारिश की संभावना नहीं है। पहाड़ों में बर्फबारी होने की वजह से ठंड बढ़ने की संभावना है। बुधवार को भी मौसम का सिलसिला इसी तरह रहेगा। अधिकतम तापमान 25 डिग्री सेल्सियस रहने के अलावा न्यूनतम तापमान  7 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने की संभावना है।

जिला एपीडिमोलाजिस्ट डा. अदित्य पाल सिंह का कहना है कि डेंगू के मच्छर की 14 डिग्री सेल्सियस से कम तापमान पर सांसें फूलने लगती है। इसके बाद डेंगू खुद के बचाव को लेकर हाई तापमान वाली जगह को ढूंढने लगता है। जिले में फिलहाल नए मरीजों की संख्या में गिरावट शुरू हो गई है। फिलहाल पुराने मरीज ज्यादा रिपोर्ट हो रहे है। जिले में मरीजों की संख्या 603 तक हो गई है। इनमें 419 शहरी तथा 185 देहात के शामिल है।

मौसम विज्ञानी डा. दलजीत सिंह का कहना है कि पहाड़ों में बर्फबारी की वजह से सर्दी बढ़ने लगी है। पश्चिमी विक्षोभ के चलते मौसम में तेजी के साथ बदलाव हो रहा है। उन्होंने कहा कि दीपावली के बाद ही न्यूनतम व अधिकतम तापमान में भारी अंतर आ रहा है। नवंबर माह के अंत तक मौसम यथावत रहेगा।

सिविल अस्पताल के डा. भूपिंदर सिंह का कहना है कि न्यूनतम और अधिकतम तापमान में अंतर ज्यादा होने की वजह दिन में हल्की गर्मी और सुबह और शाम को ठंड बढ़ जाती है। इसकी वजह से बच्चों व बुजुर्गों को सर्दी लगने का खतरा बरकरार है। दिन में कम से कम खाने के बाद गर्म पानी का सेवन करना चाहिए।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.