top menutop menutop menu

जालंधर में राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों की एडमिशन फीस माफ, फ्री हॉस्टल की भी सुविधा

जालंधर में राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों की एडमिशन फीस माफ, फ्री हॉस्टल की भी सुविधा
Publish Date:Tue, 04 Aug 2020 10:28 AM (IST) Author: Kamlesh Bhatt

जालंधर [कमल किशोर]। Admission fee waived: राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों के लिए अच्छी खबर है। अगर कोई राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी कॉलेज में दाखिला लेता है तो उसे कॉलेज फीस नहीं देनी पड़ेगी। साथ ही कॉलेज में पढ़ाई भी मुफ्त होगी। यही नहीं हॉस्टल सुविधा भी मुफ्त मिलेगी। खिलाड़ियों को सिर्फ यूनिवर्सिटी चार्ज जमा करवाने होंगे।

जालंधर के सभी कॉलेज प्रबंधनों ने ये फैसला लिया है। यही नहीं, प्रबंधन ने ये भी फैसला लिया है कि राज्य स्तरीय खिलाड़ी को भी फीस में 30 से 40 फीसद छूट दी जाएगी। यह फैसला कॉलेज प्रबंधनों ने कोविड-19 वायरस की गंभीरता को देखते हुए लिया है। इस वर्ष कोविड-19 वायरस के कारण कॉलेजों में खेल ट्रायल नहीं लिए गए है। न ही टीमों का गठन किया गया है। ऐसे में खिलाड़ियों के सर्टिफिकेट के आधार पर ही दाखिले होंगे और उन्हें छूट दी जाएगी।

पिछले साल विभिन्न खेलों की 46 टीमें बनाई गई थी। तीन हजार खिलाड़ियों ने ट्रायल दिए थे। इन ट्रायल में 1200 से 1500 खिलाड़ियों का चयन किया जाता है। पिछले साल लायलपुर खालसा कॉलेज ने 600 खिलाड़ियों की फीस माफ की थी। केएमवी ने 120 खिलाड़ियों की फीस माफ करने के साथ-साथ यूनिवर्सिटी चार्ज भी माफ किए थे। वहीं, डीएवी कॉलेज ने 200 व एचएमवी ने 220 खिलाड़ियों की फीस माफ की थी।

क्या कहना है कि प्रिंसिपलों का

पिछले वर्ष खिलाड़ियों की फीस माफ करने के साथ-साथ हॉस्टल सुविधा फ्री थी। यूनिवर्सिटी चार्ज भी माफ किए हुए थे। इस वर्ष खिलाड़ियों के लिए फीस माफ, हॉस्टल सुविधा फ्री होगी। सिर्फ यूनिवर्सिटी चार्ज ही देने होंगे। -डॉ. अतिमा शर्मा, प्रिंसिपल केएमवी

---

कोरोना वायरस की गंभीरता के कारण इस वर्ष खेल ट्रायल व टीमों का गठन होना मुश्किल है। राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी कॉलेज में दाखिला लेते है तो उसकी फीस व हॉस्टल की सुविधा फ्री होगी। -डॉ. अजय सरीन, प्रिंसिपल, एचएमवी

---

पिछले वर्ष शहर के विभिन्न कॉलेजों में विभिन्न खेलों की 46 टीमें बनी थी। फिलहाल इस समय इंटर कॉलेज व यूनिवर्सिटी टूर्नामेंट होना भी मुश्किल है। ऐसे में इस वर्ष कॉलेज में दाखिला लेने वाले खिलाड़ियों से किसी प्रकार की फीस नहीं ली जाएगी। -डॉ. गुरपिंदर सिंह, प्रिंसिपल, एलकेसी

---

राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी दाखिला लेने वाले खिलाड़ियों की फीस माफ होगी। हॉस्टल सुविधा के साथ-साथ खाना-पीना फ्री होगा। खिलाड़ियों का कार्य कॉलेज की तरफ से खेलना है ओर बेहतर प्रदर्शन करना है। -डॉ. एसके अरोड़ा, प्रिंसिपल, डीएवी 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.