Jalandhar Teachers Protest: बेरोजगार बीएड शिक्षक फिर शिक्षा मंत्री की कोठी के आगे धरने पर बैठे, जानें क्यों फूले पुलिस के हाथ-पांव

बीएड टीईटी पास बेरोजगार अध्यापक यूनियन के सदस्यों ने एक बार फिर शिक्षा मंत्री परगट सिंह के घर के बाहर प्रदर्शन शुरू किया है। उनका कहना है कि शिक्षा मंत्री के साथ अभी तक लगभग 5 से 6 बार मीटिंग हो चुकी है। उन्हें आश्वासन ही दिया जा रहा है।

Pankaj DwivediPublish:Sat, 04 Dec 2021 12:54 PM (IST) Updated:Sat, 04 Dec 2021 12:54 PM (IST)
Jalandhar Teachers Protest: बेरोजगार बीएड शिक्षक फिर शिक्षा मंत्री की कोठी के आगे धरने पर बैठे, जानें क्यों फूले पुलिस के हाथ-पांव
Jalandhar Teachers Protest: बेरोजगार बीएड शिक्षक फिर शिक्षा मंत्री की कोठी के आगे धरने पर बैठे, जानें क्यों फूले पुलिस के हाथ-पांव

जासं, जालंधर। खाली पोस्टें न भरे जाने से नाराज चल रहे बीएड टीईटी पास बेरोजगार अध्यापक यूनियन के सदस्यों ने एक बार फिर शिक्षा मंत्री परगट सिंह के घर के बाहर प्रदर्शन शुरू किया है। उनका कहना है कि शिक्षा मंत्री के साथ अभी तक लगभग 5 से 6 बार मीटिंग हो चुकी है। हर बार उन्हें आश्वासन मिला है मगर उनकी मांगों की तरफ अभी तक कोई गौर नहीं किया गया है। इस वजह से अध्यापक सुबह 6:45 बजे बिना किसी को सूचना दिए हैं शिक्षा मंत्री परगट सिंह के घर के बाहर पहुंच गए और धरना प्रदर्शन आरंभ कर दिया। 

सुबह चुपचाप पहुंचे अध्यापक मंत्री के घर के बाहर आकर बैठ गए। इसकी भनक न तो पुलिस कर्मचारियों को लगी और न ही मीडिया कर्मियों को इस बारे में कोई जानकारी दी गई। पुलिस को जब पता चला कि अध्यापक शिक्षा मंत्री के घर के बाहर बैठ गए हैं तो उनके हाथ पांव फूल गए। पुलिस वाले भागते-भागते शिक्षा मंत्री के घर के बाहर पहुंचे और स्थिति की निगरानी शुरू कर दी। 

बता दें कि अभी तक यूनियन के सदस्यों ने पुलिस और मीडिया को बताकर ही प्रदर्शन किया था। इस वजह से पुलिस की तरफ से पहले ही शिक्षा मंत्री के घर के बाहर बैरिकेड लगा दिए जाते थे ताकि वह आगे ना बढ़ सकें। इस बार यूनियन के सदस्यों ने ऐसा नहीं किया और वे सीधे बैरिकेडिंग क्रॉस करते हुए आगे बढ़ गए। वहां पर पुलिस का नाका भी नहीं था।

शिक्षा मंत्री की सुरक्षा पर सवाल

अध्यापकों की हरकत ने शिक्षा मंत्री की सुरक्षा पर भी सवाल खड़ा हो गया है। कर दिए हैं। पिछले दिनों शिक्षा मंत्री की गैर-मौजूदगी में प्रदर्शन कर रहे अध्यापक उनकी कोठी के आंगन में घुस गए थे। इसे लेकर पुलिस विभाग में काफी बवाल मचा था। खुद मंत्री ने इसका कड़ा संज्ञान लेते हुए पुलिस सुरक्षा पर प्रश्न उठाए थे। उन्होंने अध्यापकों की हरकत को गलत बताया था।

यह भी पढ़ें - पंजाब के पठानकोट में आसमान में दिखी रहस्यमयी रोशनी की चमकती कतार, अचरज में पड़े लोग