top menutop menutop menu

दिल्ली में सिख युवक की हत्या करने वाले को जमानत देने पर सिख संगठन ने जताया विरोध

दिल्ली में सिख युवक की हत्या करने वाले को जमानत देने पर सिख संगठन ने जताया विरोध
Publish Date:Sun, 09 Aug 2020 02:02 PM (IST) Author: Pankaj Dwivedi

जालंधर, जेएनएन। दिल्ली में सार्वजनिक तौर पर सिगरेट पीने का विरोध करने पर सिख नौजवान गुरप्रीत सिंह की हत्या करने वाले रोहित कृष्ण महंत को केजरीवाल सरकार की सिफारिश पर जमानत दे दी गई है। इसका जिले के सिख संगठनों ने कड़ा विरोध किया है। इसके साथ ही आम आदमी पार्टी को सिख विरोधी करार देते हुए इसका विरोध करने का एलान किया।

रविवार को सिख तालमेल कमेटी के प्रमुख तेजिंदर सिंह परदेसी, हरपाल सिंह चड्ढा, परमिंदर सिंह दशमेश नगर, हरप्रीत सिंह रॉबिन और सतपाल सिंह सिद्दीकी ने कहा कि आम आदमी पार्टी की ओर से लगातार सिख मर्यादा के विरोध में फैसले लिए जा रहे हैं। इससे देश में अल्पसंख्यकों पर हो रही धक्केशाही का प्रमाण मिल रहा है। उन्होंने कहा कि अरविंद केजरीवाल अल्पसंख्यकों के विरोध में नीतियां बना और अपना रहे हैं। इसे किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

इस मौके पर उनके साथ जतिंदर पाल सिंह मझैल, बलदेव सिंह गतका मास्टर, गुरजीत सिंह सतनामियां, हरप्रीत सिंह रोबिन, प्रभजोत सिंह खालसा, अमनदीप सिंह बग्गा, मनमिंदर सिंह भाटिया, हरपाल सिंह पाली, बाबा हरजीत सिंह, अरविंदर पाल सिंह बबलू, भूपिंदर सिंह, कुलवंत सिंह कंग, सरबजीत सिंह कालड़ा, जितेंद्र सिंह कोहली, बलजीत सिंह शंटी और विक्की खालसा मौजूद थे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.